कोरोना ड्यूटी में लगे शिक्षक और स्वास्थ्यकर्मी की मौत के मामले में, शिक्षकों ने किया 1 करोड़ बीमा-मुआवजा की मांग

रायपुर। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए लगाई गई ड्यूटी के दौरान एक शिक्षक सियाराम और एक स्वास्थ्यकर्मी दया सिंह की अचानक मृत्यु हो गई, जिसके बाद कर्मचारी संगठनों ने शासन से गुहार लगाई कि मृत कर्मचारियो के परिवार को मुआवजा मिले और समस्त कर्मचारियों को 1करोड़ रुपये का बीमा कवर तथा ड्यूटी के दौरान संक्रमण रोकने वाली समस्त सुरक्षा संसाधन उपलब्ध करावे।इसी परिपेक्ष्य में प्रदेश के शिक्षक संगठन शालेय शिक्षाकर्मी संघ ने आह्वान किया था कि सभी शिक्षक अपने मृतक शिक्षक साथी को श्रद्धांजलि अर्पित करे और 1 करोड़ बीमा कवर/मुआवजा व सुरक्षा संसाधन की मांग हेतु अपने अपने घर से सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए पोस्टर के द्वारा अपनी आवाज उठाये,इस अपील को प्रदेश के शिक्षकों का भारी समर्थन मिला और छग के सभी जिलों से शिक्षकों ने अपने मृतक साथी को श्रद्धांजलि देते हुए मांग से सबंधित पोस्टर जारी कर इस मुहिम की शुरुआत की।

शालेय शिक्षाकर्मी संघ के प्रांताध्यक्ष वीरेंद्र दुबे ने सपरिवार श्रद्धांजलि देते हुए मुख्यमंत्री से अनुरोध किया कि जिस प्रकार दिल्ली राज्य सरकार ने कोरोना वारियर्स के लिए 1 करोड़ की सम्मान राशि प्रदान कर रही है,छग में भी शिक्षक सहित उन समस्त कर्मचारियों को भी 1 करोड़ रुपये की बीमा कवर/मुआवजा व सुरक्षा संसाधन उपलब्ध कराया जावे ताकि समस्त कोरोना वारियर्स का मनोबल ऊंचा हो और वे निश्चिंत भाव से सेवा कर सकें।

प्रदेश मीडिया प्रभारी जितेंद्र शर्मा ने बताया कि शालेय शिक्षाकर्मी संघ के इस अपील को समाज के सभी वर्गों व कर्मचारियों का अच्छा प्रतिसाद मिल रहा है और वे इस मुहिम से जुड़कर अपनी मांग के साथ अपनी फोटो शेयर कर रहे हैं।

श्रद्धांजलि के साथ बीमा कवर/मुआवजा की मांग करने वालो में प्रमुख रूप से धर्मेश शर्मा,चंद्रशेखर तिवारी,विष्णु शर्मा,गजराज सिंह,भोजराम पटेल,विवेक शर्मा,उपेन्द्र सिंह,दीपक वेंताल,शिवेंद्र चन्द्रवँशी,विनय सिंह,हिमन कोर्राम,प्रदलाद जैन,जितेंद्र गजेंद्र,रवि मिश्रा,कैलाश रामटेके,दिनेश पांडेय,राजेश शर्मा,अतुल अवस्थी,अजय वर्मा,घनश्याम पटेल,कृष्णराज पांडेय,सुशील शर्मा,विवेक ध्रुव,अमित सिन्हा, दिनेश साहू, आदि प्रदेश के सभी जिलों के शिक्षक सम्मलित हैं।

loading...

Related Articles

loading...
Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।