जानिए मानसून सत्र में किन-किन मुद्दों पर सरकार को घेरेगी विपक्ष, डॉ. रमन ने कहा- ‘सदन में छह महीने के सरकार का दिखाएंगे असल सच’

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा का मानसून सत्र शुक्रवार से शुरू हो रहा है. सत्र बेहद हंगामेदार रहने वाला यह विपक्ष की तैयारियों को देखकर लग रहा है, क्योंकि भाजपा विधायकों ने सरकार को घेरने जनहित से जुड़े कई मुद्दों को उठाने की तैयारी कर ली है. 14 भाजपा विधायक इस छोटे मानसून सत्र में विभिन्न मुद्दों के साथ बड़ा धमाका करने को तैयार दिख रहे हैं.

lalluram.com  से बातचीत में पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा, कि कल से शुरू होने वाला मानसून सत्र बहुत ही छोटा है. फिर भी हम इस छोटे सत्र में कांग्रेस सरकार की छह महीने की काम-काज की पोल-खोल कर रख देंगे. सदन में हम बताएँगे कि 6 महीने की सरकार में जनता किस तरह से परेशान है. समाज के अलग-अलग वर्गों में जो गुस्सा है, उसकी झलक विधानसभा में देखने को मिलेगी. 

उन्होंने कहा, कि दंतेवाड़ा में हमारे विधायक रहे भीमा मंडावी की हत्या का मामला,  जवानों की शहादत का मामला, किसानों की ऋणमाफी का मुद्दा,  अटार्नी जनरल (महाधिवक्ता) की नियुक्ति, रेत नीति, शराब बंदी में वादा खिलाफी, खाद-बीज के मुद्दे, पुलिस एवं कानून व्यवस्था, पुलिस हिरासत में अब तक 3 व्यक्तियों की मौत, आर्थिक अराजकता, स्कूली छात्रों से शिक्षकों के छेड़छाड़, तीर्थयात्रा में भ्रष्टाचार, अमानक दवाई एवं दवाई खरीदी में भ्रष्टाचार, शराब की बिक्री अतिरिक्त दर पर, स्मार्ट कार्ड योजना, आयुष्मान योजना,  प्रदेश में अघोषित बिजली कटौती, बिजली हाफ, बेरोजगारी और बुनकरों को धागा नहीं मिलने का मुद्दा प्रमुखता से सदन उठेगा.  इसके साथ कई और मुद्दों जिसके माध्यम से हम सदन में कांग्रेस सरकार में छह महीने का असल सच दिखाएँगे. आज प्रदेश में स्थिति ये है कि लोग बिजली कटौती से इतने परेशान हैं, कि आंदोलन कर रहे हैं, सरकार के ख़िलाफ़ लोगों में आक्रोश पनप रहा है, 40 हजार बुनकरों को सरकार की ओर से धागा मिलना बंद हो गया है. विपक्ष के पास अनेक मुद्दे हैं जिस पर हम सरकार को घेरने के लिए पूरी तैयारी में है.

विधायक दल की बैठक में होगा अविश्वास प्रस्ताव पर फैसला
वहीं मौजूदा सरकार के ख़िलाफ़ जनता कांग्रेस की ओर से अविश्वास प्रस्ताव लाने का ऐलान किया गया है. इसमें जोगी कांग्रेस ने बीजेपी का समर्थन मांगा है, लेकिन बीजेपी ने फिलहाल इस पर कोई निर्णय नहीं लिया है. भाजपा ने कहा है, कि जोगी कांग्रेस को अविश्वास प्रस्ताव पर समर्थन पर देना है या नहीं इस पर फैसला विधायक दल की बैठक में लिया जाएगा.

भाजपा विधायक लग की बैठक 15 जुलाई को संभावित है. बैठक से पूर्व 12 जुलाई को विधानसभा में नेता-प्रतिपक्ष कक्ष में विधायक दल की बैठक को लेकर विधायकों से चर्चा होगी. चर्चा के दौरान कुछ विभिन्न मुद्दों पर निर्णय लिया जाएगा.

Advertisement
Back to top button
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।