Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

रायपुर। सिविल लाइन पुलिस ने धोखाधड़ी के एक मामले में आरके मॉल के मालिकों के बैंकिंग कंसल्टेंट रहे गोपी कृष्णानी को गिरफ्तार कर लिया है. गोपी पर आरोप है कि उसने बैंक में बंधक रखी एक जमीन को किसी और व्यक्ति को बेच दिया था.

इस मामले में मेसर्स प्रेम कंस्ट्रक्शन के संचालक आशीष जैन और विकास जैन के खिलाफ अपराध दर्ज था. मामले की जांच में आरोपी गोपीचंद कृष्णानी जो कि पंजाब नेशनल बैंक का अधिकृत एजेंट भी है के द्वारा खुशी वाटिका में रहने वाली प्रेमलता जैन के नाम पर रजिस्ट्री है. वह फ्लैट पीएनबी में बंधक था. जिसे अपने नाम पर विक्रय इकरारनामा तैयार कर लालगंगा शापिंग काम्पलेक्स में स्थित जम्मू एंड कश्मीर बैंक से 19 लाख 20 हजार का लोन लेकर अपने और अपनी पत्नी के नाम पर रजिस्ट्री करा लिया.

इसी तरह 14 और फ्लैटों  को षड़यंत्रपूर्वक बैंक कर्मचारियों से दूसरे के नाम रजिस्ट्री एवं पीएनबी में लोन ले लिया. लोन लेने के बाद लोन को न अदा कर बैंक से एनपीए कुकी कार्यवाही करा कर बैंक से सस्ते दरों में फ्लैट खरीद कर आरोपी गोपी कृष्णानी ऊंचे दरों पर बेचने का प्रयास कर रहा था. जिसकी जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने आरोपी गोपी कृष्णानी को गिरफ्तार कर लिया.

आपको बता दें कि धोखाधड़ी के आरोप में जेल में बंद आरके मॉल के मालिक आशीष और विकास जैन के बैंक संबंधी सबी कार्यों को गोपी कृष्णानी ही देखा करता था. आशीष और विकास की आरके कंस्ट्रक्शन कंपनी भी थी जिसके जरिए कई लोगों को मकान बनाकर देने के नाम पर दोनों ने ठगी की थी. गोपी पंजाब नेशनल बैंक का एजेंट था और वह आरोपियों को लोन दिलाने सहित सभी कार्य वही करता था. आरोप यह भी है कि गोपी ने लोन के लिए कई तरह के फर्जी दस्तावेज तैयार करवाए थे.