माओवादियों ने SI से ली जवानों की कई अहम जानकारी, नौकरी छोड़ने की दी धमकी, कुछ नक्सलियों की हुई शिनाख्त

एसआई ललित और शिक्षक जय सिंह

पंकज सिंह भदौरिया, दंतेवाड़ा. नक्सलियों के कैद से वापस लौटे एसआई और शिक्षक से पुलिस ने पूछताछ की है, जिसमें कई बाते निकलकर सामने आई है. नक्सलियों ने दोनों को प्रताड़ित कर उनसे कई अहम जानकारियां ली है. इन्हें अगवा कर हत्या की झूठी जानकारी फैलाकर बड़ी साजिश के तहत सर्चिंग पार्टी को फंसाने के लिए बड़ा एम्बुश लगा रखा था. हालांकि जवान इनके इस चंगुल में नहीं फंसे.

एसआई ललित ने बताया कि उससे नक्सलियों के लीडरों ने जिले में तैनात जवानों की जानकारी मांगी और ड्यूटी की पूरी जानकारी ली. इतनी ही नहीं जवानों द्वारा उपयोग की जाने वाली हथियारों के बारे में भी पूछा और उसके घर का पता भी पूछते हुए नौकरी छोड़ने की धमकी दी. समेली सीआरपीएफ कैम्प के अंदर की जवानों की संख्या पूछा गया. जवानों की पूरी जानकारी और अपनी जानकारी एसआई ने नक्सलियों के सामने उगल दी.

एसआई ने पुलिस को बताया कि उसने किन बड़े नक्सलियों ने सवाल पूछा है, एसआई ने नक्सलियों की तस्वीर पर हाथ रखते हुए एक-एककर कई नक्सलियों के बारे में बताया. उसने ये भी बताया कि नक्सलियों ने नौकरी छोड़ देने की हिदायत देते छोड़ दिया.

वहीं शिक्षक जय सिंह ने बताया कि हाथियार बंद नक्सलियों ने हमें आंख में पट्टी बांधकर जबेली गांव से अपहरण कर पैदल दोनों को बुरगुम के जंगलो में ले गए. मारपीट तो नहीं कि, लेकिन पुलिस के साथ नहीं रहने की बात कही और पुलिस से दूर रहो नहीं तो जान से हाथ धो बैठने की धमकी दी.

BIG BREAKING: माओवादियों के चंगुल से छूटकर सकुशल वापस लौटे SI और शिक्षक, पुलिस कर रही पूछताछ

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।