मुंबई के फुटओवर ब्रिज हादसे में 6 लोगों की मौत, 36 घायल, मृतकों को 5 लाख और घायलों को 50 हजार का मुआवजा

मुंबई. मुंबई के सीएसटी रेलवे स्टेशन के पास फुटओवर ब्रिज गिरने से 3 महिलाएं समेत 6 लोगों की मौत हो गई, जबकि 36 अन्य लोग घायल हैं. चश्मदीद के मुताबिक जब ब्रिज गिरा था तो वहां पर कई लोग मौजूद थे. इसके अलावा कई गाड़ियां भी ब्रिज के नीचे मौजूद थीं. यह ब्रिज ‘टाइम्‍स ऑफ इंडिया बिल्डिंग और सीएसटी रेलवे स्टेशन के प्‍लेटफॉर्म संख्‍या एक को बीटी लेन से जोड़ता है. सीएम देवेंद्र फडणवीस ने मृतकों के परिवारों को 5-5 लाख रुपये और घायलों को 50-50 हजार रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की है.

हादसे पर पीएम मोदी, रेल मंत्री पीयूष गोयल और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव, राहुल गांधी समेत कई नेताओं ने इस घटना पर दुख जताया है. वहीं हादसे में रेलवे और BMC अधिकारियों के खिलाफ FIR दर्ज किया गया है.

मुंबई के जिस स्थान पर यह हादसा हुआ उससे कुछ ही दूरी पर मुंबई पुलिस और मुंबई महानगरपालिका के मुख्यालय स्थित हैं. सेंट्रल रेलवे के डीआरएम डीके शर्मा के अनुसार जिस ब्रिज के गिरने से यह हादसा हुआ उसकी देखरेख का काम बीएमसी करती है. उन्होंने बताया कि ब्रिज का निर्माण कार्य रेलवे ने कराया था, लेकिन रखरखाव की जिम्मेदारी बीएमसी की ही थी.

हादसे में मरने वालों में अपूर्वा प्रभु (35), रंजना तांबे (40), जाहिद सिराज खान (32), भक्ति शिंदे (40), तपेंद्र सिंह (35) और मोहन कायगुंडे (55) शामिल है. बाकी घायलों का इलाज जारी है जिसमें 5 की हालत गंभीर बताई जा रही है.

मुंबई में जो ब्रिज गिरा है वो 1980 में बना था. और यह रेलवे का फुटओवर ब्रिज नहीं है बल्कि यह पब्लिक फुटओवर ब्रिज है. इस हादसे से रेलवे ट्रैफिक प्रभावित नहीं हुआ है.

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।