मौसेरे भाई-बहन की काजी ने करवाई शादी, पुलिस बोली- मियां-बीवी राजी तो क्या करेगा काजी

गोरखपुर. पुलिस तो अपने कारनामों से हमेशा ही चर्चा में रहती है. यूपी के कुशीनगर में पुलिस ने बड़ी मिसाल पेश की है. कुशीनगर जिले में मौसेरा भाई-बहन के बीच 4 सालों से चल रहे प्यार को एक मूर्त रूप दे दिया गया. परिवार और समाज से परेशान प्रेमी जोड़े का थाने में निकाह कराकर पुलिस ने मानवता का परिचय दिया है.

थाने में हुई अनोखी शादी

‘मियां-बीवी राजी तो क्या करेगा काजी’ वाली कहावत तो आपने जरूर सुनी होगी पर मियां बीवी राजी और थाने में आया काजी वाली कहावत यूपी के कुशीनगर जनपद के थाना पडरौना में चरितार्थ होते हुए दिखी. थाने में अनोखी शादी हुई. काजी ने लड़के-लड़की को साथ रहने और पूरी जिंदगी एक दूसरे का ख्याल रखने की कसम भी दिलाई.

प्यार को हो चुके 4 साल

दरअसल पडरौना कोतवाली के गांव जंगल बेलवा निवासी सलीम को सलमा खातून से प्यार हो गया. सलमा खातून का पहले विवाह हो चुका था लेकिन किसी कारण बाद में तलाक हो गया. तलाक होने के बाद सलीम की मौसेरी बहन सलमा इसके घर आई हुई थी. इसी दरमियान दोनों की आंखे चार हो गईं. दोनों प्रेमी और प्रेमिका 4 सालों से एक दूसरे के प्यार में थे पर सामाजिक बंधनों की वजह से बात आगे नहीं बढ़ पाई. जिस वजह से सलीम शादी तो करना चाहता था पर किसी वजह से इनकार करने लगा. जब यह प्यार का मामला लड़की के परिवार को पता चला तो लड़की वाले लड़के के घर पहुंचे, पंचायत हुई. पर घरवाले नहीं मानें.

थाने में आए मौलवी

कुछ दिन बाद फिर सामाजिक लोगों ने इस मामले को पडरौना कोतवाली में ले आए. जहां पुलिस ने दोनों को समझा बुझाकर एक दूसरे को साथ रहने के लिए विवाह के बंधन में बांध कर एक अनोखी मिसाल पेश की. थाने में मौलवी आए, रस्मों रिवाज के साथ निकाह पढ़ा गया. शादी में नेग भी दिया और दोनों को एक दूसरे का खयाल रखने की हिदायत भी दिया गया.

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।