शादी का झांसा देकर दुष्कर्म का आरोप, पुलिस ने आरोपी नायाब तहसीलदार को किया गिरफ्तार

बेमेतरा। शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने के मामले में पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है. आरोपी बलौदाबाजार जिले के सिमगा में नायाब तहसीलदार था. युवती ने आरोप लगाया कि आरोपी पांच से उसका शारीरिक शोषण कर रहा था. और उसने बिना बताए दूसरी जगह सगाई तक कर ली. पीड़िता की इस रिपोर्ट पर पुलिस ने तत्काल आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की.

Close Button

पुलिस ने बताया कि 26 मई को युवती ने बेमेतरा थाना सिटी कोतवाली में लिखित आवेदन कर रिपोर्ट दर्ज कराई कि युवराज साहू ने वर्ष 2015 से 19 मई 2020 तक लगातार शादी का झांसा देकर शारीरिक संबंध बनाता रहा. पीड़िता 2015 के पूर्व बेमेतरा में पढ़ाई कर रही थी. साल 2015 के पूर्व युवराज साहू शिक्षाकर्मी के पद पर जिला बेमेतरा के ग्राम बालसमुंद और सिंघौरी में पदस्थ था. इसके बाद 2019 में युवराज साहू का नायब तहसीलदार के पद पर चयन हो गया. उसकी पोस्टिंग सिमगा जिला बलौदाबाजार में हुई. इसी बीच उसने सगाई कर ली. मुझे बताया भी नहीं.

पीड़िता ने बताया कि युवराज जानता था कि वह दूसरी जाति की है, इसके बाद भी वह मुझे शादी का झांसा देकर 5 साल तक शारीरिक शोषण करता रहा. जब मुझे सगाई की जानकारी हुई तो न्याय के लिए लड़ने के बारे में सोची और शिकायत लेकर थाने आया. इस शिकायत के आधार पर पुलिस ने आरोपी युवराज के खिलाफ अपराध कर लिया गया है.

पुलिस ने बताया कि इस घटना के संबंध में वरिष्ट अधिकारियों को अवगत कराया गया है. एसपी दिव्यांग कुमार पटेल के निर्देशन पर एएससपी विमल कुमार बैस एवं एसडीओपी बेमेतरा राजीव शर्मा के द्वारा थाना प्रभारी बेमेतरा निरीक्षक राजेश मिश्रा एवं थाना स्टाफ को आरोपी का पतासाजी कर तत्काल कार्रवाई करने निर्देशित किया गया.

जिस पर थाना प्रभारी सिटी कोतवाली बेमेतरा एवं थाना स्टाफ द्वारा तत्काल कार्रवाई करते हुए आरोपी युवराज साहू पिता नारायण साहू (32) सुपेला थाना भखारा जिला धमतरी को पकडा गया. आरोपी न्यायालय बेमेतरा में पेश किया गया.

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।