सीएम भूपेश के खिलाफ जिस नेता ने लड़ा था पहला चुनाव, राहुल गांधी ने उसे कराया कांग्रेस प्रवेश…महासमुंद से हैं लोकसभा के दावेदार

रायपुर। राजधानी रायपुर एयरपोर्ट में आज वो घड़ी आ ही गई जिसका इंतजार काफी दिनों से किया जा रहा था. राहुल गांधी ने आज भूपेश बघेल के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले नेता को कांग्रेस प्रवेश करा दिया. बात हो रही है पूर्व केन्द्रीय मंत्री स्व.पुरुषोत्तम लाल कौशिक के बेटे दिलीप कौशिक की. जिन्होंने आज राहुल गांधी के समक्ष कांग्रेस का दामन थाम लिया है. रायपुर एयरपोर्ट में राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने दिलीप कौशिक को कांग्रेस प्रवेश कराया. भूपेश सरकार बनने के बाद से ही दिलीप कौशिक की राजनीतिक सक्रियता बढ़ गई थी. तभी से उनके कांग्रेस में शामिल होने की चर्चा हो रही थी.

खास बात ये है कि जब भूपेश बघेल सन् 1993 अपना पहला विधानसभा चुनाव लड़ा था तब उनके खिलाफ देश के प्रख्यात समाजवादी नेता रहे पुरुषोत्तम कौशिक के सुपुत्र दिलीप कौशिक चुनाव लड़े थे. लेकिन बघेल से चुनाव हार गए थे. हालांकि उसम समय चुनाव के बाद परिवारवाद के आरोप के चलते सक्रिय राजनीति से दिलीप कौशिक अलग हो गए थे. अब अपने पिता पूर्व केन्द्रीय मंत्री पुरूषोत्तमलाल कौशिक के निधन के बाद क्षेत्रवासियों की पहल पर एक बार फिर दिलीप कौशिक सक्रिय राजनीति में आ गए हैं. देखना है कि 26 साल बाद बदली हुई परिस्थिति में दिलीप कौशिक का नया राजनीतिक सफर कैसा रहने वाला है. वैसे उन्हें महासमुंद लोकसभा सीट से मजबूत दावेदा बताया जा रहा है. मतलब वे कांग्रेस की टिकट पर चुनाव भी लड़ सकते हैं.

ऐतिहासिक रहा विमानतल पर दो राजनीतिक पुत्रों की मुलाकात

रायपुर माना विमानतल पर एक दौर को फिर याद कर लिया जब कभी पूर्व केंद्रीय मंत्री पुरूषोत्तम लाल कौशिक विमानन मंत्री के रूप में विमान से रायपुर आते थे और उस दौरान राहुल गांधी के पिता पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी पायलट हुआ करते थे. कई बार पुरूषोत्तमलाल कौशिक और राजीव गांधी यहां आपस में बातचीत भी करते थे और उसी एयरपोर्ट में आज दोनों पिता के पुत्र राहुल गांधी एवं दिलीप कौशिक न केवल आपस में मिले बल्कि दिलीप कौशिक ने कांग्रेस प्रवेश कर लिया.

इंदिरा गांधी, राजीव गांधी, सोनिया गांधी अलग-अलग दौर में पुरूषोत्तमलाल कौशिक को कांग्रेस में आमंत्रित करते रहे पर वे नहीं गए. आज विमानतल पर दो अलग-अलग धुरी के राजनीतिक पिताओं के पुत्रों ने एक मंच पर काम करना स्वीकार कर लिया.

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।