Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

शब्बीर अहमद, भोपाल। मध्यप्रदेश में इस साल बंपर धान खरीदी (Paddy purchased)  हुई है। एमपी ने धान खरीदी के मामले में अपने ही रिकॉर्ड को ध्वस्त किया है। मध्यप्रदेश में इस साल 45 लाख 43 हजार टन धान खरीदी हुई है, जो अपने आप में ही एक रिकॉर्ड है। यह पिछली बार की धान खरीदी से ज्यादा है। 

इसे भी पढ़ेः सिंधिया को हराने वाले बीजेपी सांसद केपी यादव का छलका दर्दः ‘महाराज’ समर्थकों पर पार्टी का माहौल खराब कराने का लगाया आरोप, BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा को लिखा पत्र वायरल

बता दें पिछले साल 37 लाख टन धान खरीदी हुई थी। एमपी में 1960 रुपये प्रति क्विंटल समर्थन मूल्य के हिसाब से धान खरीदी की जाती है।

इस बार समर्थन मूल्य पर धान बेचने के लिए 8 लाख 33 हजार 865 किसानों ने पंजीयन करवा था। इन किसानों से 45.43 लाख टन धान खरीदी हुई है। समर्थन मूल्य पर हुई धान खरीदी में किसानों को 4 हजार 877 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया है, ये पैसे बैंक के जरिए सीधे किसानों के अकाउंट पहुंचा है।

इसे भी पढ़ेः एमपी कोरोना LIVE: ग्वालियर में 5 और सागर में 12 महीने की बच्ची समेत 5 की मौत, मिले 11 हजार 274 कोरोना मरीज, संक्रमण दर 13% के पार

35 लाख हेक्टेयर से ज्यादा बर बोवनी

प्रदेश मे इस बार 35 लाख हेक्टेयर से ज्यादा क्षेत्र मे धान की बोवनी की गई थी। 20 जनवरी तक धान की खरीदी की गई थी, लेकिन इसमें कुछ जिलों में किसानों को राहत दी गई। जहां बारिश की वजह से उपज बेच नहीं पाए थे पंजीयन करवाने के बाद भी उन्हें विशेष अनुमति दी गई है।

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

">
Share: