Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के नेता एवं राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने बीजेपी पर कई आरोप लगाए हैं. उनका कहना है कि भाजपा ने दिल्ली में 53 मंदिरों को तोड़ने की योजना बनाई है. भाजपा के लोग देशभर में धर्म के नाम पर ड्रामा करते हैं और दिल्ली में 53 मंदिरों को तोड़ने की अनुमति के लिए केंद्र सरकार ने दिल्ली सरकार को चिट्ठी भेजी है. संजय सिंह ने बुधवार को पार्टी मुख्यालय में कहा कि दिल्ली में एक-दो नहीं, बल्कि 53 मंदिरों को तोड़ने की बीजेपी की योजना है. उन्होंने कहा कि भाजपा को सामने आकर इसका जवाब देना पड़ेगा कि यही तुम्हारा असली चेहरा है ? केंद्र सरकार ने दिल्ली सरकार को पत्र लिखा है कि धार्मिक समिति से हमें अनुमति चाहिए.

ये भी पढ़ें: सिरफिरे ने पुलिस स्टेशन के अंदर 5 पुलिसकर्मियों और 1 होमगार्ड को मारा चाकू, एक की हालत गंभीर, आरोपी से पूछताछ जारी

बीजेपी के लोग हिंदू धर्म के विरोधी- संजय सिंह

राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने एक कागज दिखाते हुए कहा कि यह कागज इस बात का सबूत है कि भाजपा के लोग हिंदू धर्म के कितने बड़े विरोधी हैं. इसके लिए दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता को सामने आकर दिल्ली की जनता से हाथ जोड़कर माफी मांगनी चाहिए. आम आदमी पार्टी मांग करती है कि 53 मंदिरों को तोड़ने के मामले में भाजपा को सामने आकर दिल्ली की जनता को जवाब देना चाहिए. राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने केंद्र सरकार द्वारा दिल्ली में तोड़े जाने वाले मंदिरों की जानकारी देते हुए कहा कि त्यागराज नगर में काली मंदिर, हनुमान मंदिर, कृष्ण आध्यात्मिक कुटिर मंदिर, श्रीराम प्राचीन मंदिर, गुरगांव वाली माता मंदिर, कस्तूरबा नगर में हनुमान मंदिर और एक मजार को तोड़ने की योजना बनाई गई है.

राज्यसभा सांसद और आप नेता संजय सिंह

आप के सांसद संजय सिंह की पीएम मोदी से अपील – ‘अग्निपथ योजना वापस लें’

सशस्त्र बलों में अल्पकालिक भर्ती के लिए लाई गई अग्निपथ योजना को ‘देश के युवाओं के साथ धोखाधड़ी’ करार देते हुए आप के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर इस योजना को पूर्ण रूप से वापस लेने की मांग की. आप नेता ने अपने पत्र में कहा कि “बिना सोचे-समझे लाई गई यह योजना देश में एक भयानक स्थिति पैदा करेगी, जिससे उस समय की सरकार को अपनी सारी ऊर्जा खर्च करके निपटना होगा.”

ये भी पढ़ें: 10 हजार विक्रेताओं के साथ दिसंबर से ‘दिल्ली बाजार ई पोर्टल’ की होगी शुरुआत, बाजारों को मिलेगा ग्लोबल प्लेटफॉर्म

संजय सिंह ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि भाजपा सरकार न केवल भारत के सिद्धांतों को धोखा दे रही है, बल्कि युवाओं के घावों पर नमक भी छिड़क रही है, अग्निपथ योजना को तुरंत वापस लेना चाहिए. आप नेता ने पत्र में यह भी आशंका व्यक्त की कि 4 साल की सेवा के बाद वापस आने वाले अग्निवीरों को आर्थिक कठिनाई और बेरोजगारी के कारण गुमराह किया जा सकता है.

ये भी पढ़ें: दिल्ली में राजेंद्र नगर विधानसभा उपचुनाव के लिए मतदान जारी, राघव चड्ढा के राज्यसभा जाने के बाद खाली हुई है सीट

केंद्र सरकार पर आरोप

आप नेता ने पत्र में कहा है कि मैं यह भी समझ सकता हूं कि आपकी सरकार देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने में बुरी तरह विफल रही है, इसलिए केंद्र सरकार सेना के पेंशन बिल को कम करना चाहती है. अग्निपथ योजना के माध्यम से सेना के जवानों की पेंशन को खत्म करने की कोशिश की जा रही है. उन्होंने मांग की कि अग्निपथ योजना को वापस लिया जाए, क्योंकि सशस्त्र बल भारत का गौरव हैं.