मशहूर वकीलों ने सुप्रीम कोर्ट में टिकटॉक का मुकदमा लड़ने से किया इंकार

दिल्ली। चीन के मशहूर एप टिकटॉक के बुरे दिन भारत में शुरू हो चुके हैं। सरकार के एप पर बैन के बाद अब कंपनी को मुकदमा लड़ने के लिए वकील नहीं मिल रहा है।

चीन से जारी सीमा तनाव के बीच देश के दो नामी वकीलों ने कोर्ट में टिक टॉक ऐप का मुकदमा लड़ने से इनकार कर दिया है। पूर्व अटॉर्नी जनरल और वरिष्‍ठ वकील मुकुल रोहतगी और वरिष्‍ठ कांग्रेसी नेता और वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने टिकटॉक का केस लड़ने से इंंकार किया है। दरअसल, केंद्र सरकार ने टिक टॉक समेत 59 चीनी ऐप्‍स पर 29 जून को प्रतिबंध लगा दिया था। अब टिकटॉक सरकार के इस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील करने का प्लान बना रही है। इसी कड़ी में वह सुप्रीम कोर्ट के नामी वकीलों से संपर्क कर रही है।

इन दोनों मशहूर वकीलों ने कहा है कि वे केंद्र सरकार के फैसले के खिलाफ कोर्ट में टिक टॉक का मुकदमा नहीं लड़ेंगे। देश के पूर्व अटॉर्नी जनरल और सीनियर एडवोकेट मुकुल रोहतगी ने कहा कि चीन की हरकतों से उपजे तनावपूर्ण माहौल में केंद्र सरकार के खिलाफ किसी चीनी कंपनी की कोर्ट में वकालत करना सही नहीं होगा।

loading...

Related Articles

loading...
Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।