whatsapp

Mahakal Corridor: लोकार्पण के दिन प्रदेश के सभी प्रमुख मंदिरों को सजाया जायेगा, उज्जैन के 84 महादेव मंदिर की विशेष साज-सज्जा होगी, 11 अक्टूबर को पीएम मोदी करेंगे महाकाल कॉरिडोर का लोकार्पण

अमृतांशी जोशी, भोपाल Mahakal Corridor: पीएम मोदी 11 अक्टूबर को महाकाल कॉरिडोर का लोकार्पण करेंगे। लोकार्पण के दिन प्रदेश के सभी प्रमुख मंदिरों को सजाया जायेगा। साथ ही उज्जैन के 84 महादेव मंदिर की विशेष साज-सज्जा होगी। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक की। बैठक मुख्यमंत्री शिवराज ने तैयारियों को लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

Mahakal Corridor: उद्घाटन से पहले Lalluram.Com पर देखिए महाकाल कॉरिडोर का भव्य रूप, इसकी भव्यता देखकर आप हो जाएंगे मंत्रमुग्ध, 11 अक्टूबर को पीएम मोदी करेंगे लोकार्पण

मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कि महाकाल प्रोजेक्ट के लोकार्पण कार्यक्रम का लाइव प्रसारण पूरे प्रदेश में होगा। पीले चावल देकर संतों और आम लोगों को आमंत्रित किया जायेगा। इस दिन प्रदेश के प्रमुख मंदिरों को सजाया जायेगा। उज्जैन के 84 महादेव मंदिर की विशेष साज-सज्जा की जाये। धार्मिक अनुष्ठान करवाने वाले पुजारी भी लोकार्पण कार्यक्रम से जुड़ेंगे। भगवान महाकाल की सवारी के साथ छह दिवसीय कार्यक्रम की शुरूआत होगी।

बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी का 11 अक्टूबर को उज्जैन दौर कर कॉरिडर के पहले चरण का लोकार्पण करेंगे। यह देश का पहला सबसे बड़ा धार्मिक परिसर होगा जो पौराणिक सरोवर रूद्र सागर के किनारे विकसित हो रहा है।इसकी भव्यता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि कॉरिडोर पर करीब 750 करोड़ रुपये खर्च किए जा रहे हैं। इनमें से 500 करोड़ की राशि लगभग खर्च हो चुकी है।

मंदिर परिसर में घूमने में लगेंगे 5 से 6 घंटे

उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर (Mahakaleshwar Temple) का परिसर लगभग 2 हेक्टेयर फैला हुआ था। इसे बढ़ाकर अब 20 हेक्टेयर के आसपास कर दिया गया है। महाकालेश्वर मंदिर का प्रवेश द्वार काफी बड़ा और भव्य बनाया गया है। प्रोजेक्ट के इंजीनियर विकास पटेल के मुताबिक मंदिर परिसर में घूमने और सूक्ष्मता से दर्शन करने के लिए 5 से 6 घंटे का वक्त लगेगा।

सौर ऊर्जा से 400 किलोवाट प्रति घंटा बिजली उत्पादन होगा

योजना के तहत त्रिवेणी संग्रहालय के पास 400 कार खड़ी करने की पार्किंग का निर्माण हो रहा है। 16.13 करोड़ रु. की लागत वाली पार्किंग में वाहन चालकों के लिए आराम कक्ष और श्रद्धालुओं के लिए सुविधा घर भी होंगे। खास बात यह है कि पार्किंग स्थल पर 400 किलोवाट प्रति घंटा क्षमता की सौर ऊर्जा प्रणाली स्थापित की जा रही है, जिससे संपूर्ण परिक्षेत्र की विद्युत मांग की 70 फीसद पूर्ति की जा सकेगी।

60 हजार इनामी डकैत गुड्डा गुर्जर और पुलिस के बीच मुठभेड़ः दोनों के बीच कई राउंड फायरिंग हुई, पुलिस ने दो सदस्यों को गिरफ्तार किया

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

Related Articles

Back to top button