मूसेवाला हत्याकांड: सिंगर की रेकी करने वाले मोहना को अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने कराया था कांग्रेस में शामिल, पार्टी पर उठे सवाल

चंडीगढ़, पंजाब। 29 मई को जाने-माने पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की दिनदहाड़े गोलियों से छलनी कर हत्या कर दी गई थी. अब मामले में जैसे-जैसे जांच आगे बढ़ रही है, कई नए-नए खुलासे हो रहे हैं. मामले में गुजरात से 2 शार्प शूटर्स को भी गिरफ्तार किया गया है. वहीं दिल्ली के तिहाड़ जेल से पंजाब लाए गए गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई से भी पूछताछ जारी है. इधर मानसा जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लाए गैंगस्टर मनमोहन सिंह मोहना का सियासी कनेक्शन उजागर हुआ है. मोहना को पंजाब कांग्रेस के प्रधान अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने पार्टी में शामिल करवाया था. उस वक्त वे कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष नहीं थे. मोहना पर पंजाब विधानसभा चुनाव के दौरान पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की रेकी का शक है. उसके घर 4 लोग भी ठहरे थे, जिन पर शार्प शूटर होने का संदेह है. ऐसे में अब पार्टी पर सवाल खड़े हो रहे हैं.

गैंगस्टर मनमोहन सिंह मोहना इस साल कांग्रेस में हुआ था शामिल

गैंगस्टर मनमोहन सिंह मोहना शिरोमणि अकाली दल से जुड़ा हुआ था, लेकिन इस साल फरवरी में हुए पंजाब विधानसभा चुनाव के दौरान वह कांग्रेस में शामिल हुआ. पिछले साल अकाली दल के युवा नेता विक्की मिड्डूखेड़ा की हत्या हुई थी, जिसके बाद ही लॉरेंस बिश्नोाई ने मूसेवाला की हत्या की कसम खाई थी. आशंका जताई जा रही है कि कहीं गैंगस्टर मोहना ने मूसेवाला के करीब आने के लिए ही तो कांग्रेस ज्वाइन नहीं की थी. कांग्रेस ज्वाइन करने की उसकी फोटो कांग्रेस की बुढलाडा से उम्मीदवार रणवीर कौर ने अपने सोशल मीडिया पर अपलोड की थी. अब सवाल यह भी खड़ा हो रहा है कि क्या वह मूसेवाला के नजदीक जाने के लिए कांग्रेस में शामिल हुआ था. मूसेवाला भी मानसा सीट से कांग्रेस की टिकट पर चुनाव लड़ रहे थे, लेकिन वे आम आदमी पार्टी के कैंडिडेट से चुनाव हार गए थे.

ये भी पढ़ें: पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने काबुल गुरुद्वारे पर हुए हमले की निंदा की, PM नरेंद्र मोदी से सिखों की सुरक्षा सुनिश्चित करने का किया आग्रह

मानसा जिले का रहने वाला है मनमोहन मोहना

मनमोहन मोहना मानसा का रहने वाला है. उबुढलाडा ट्रक यूनियन प्रधान दर्शन सिंह के मर्डर के केस में वह जेल में बंद है. पुलिस उसे लॉरेंस के सामने बिठाकर पूछताछ कर रही है, ताकि मूसेवाला की हत्या करने वाले शार्प शूटर्स का पता लगाया जा सके.

दो शार्प शूटर्स गुजरात से गिरफ्तार

पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल दो मुख्य शूटरों को गिरफ्तार कर लिया गया है. सिद्धू मूसेवाला की 29 मई को पंजाब के मानसा में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. मूसेवाला की हत्या के मामले में शार्प शूटर प्रियवर्त फौजी और कशिश को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. यह दोनों अपने तीसरे साथी केशव के साथ गुजरात के मुंद्रा पोर्ट के नजदीक एक किराए के मकान में छिपे हुए थे. दिल्ली पुलिस ने यह भी खुलासा किया कि मूसेवाला की हत्या में कुल 6 शार्प शूटर्स शामिल थे, जो कोरोला और बोलेरो में सवार होकर आए थे.

ये भी पढ़ें: कनाडाई गायक ड्रेक ने रेडियो शो में दिवंगत सिंगर सिद्धू मूसेवाला के हिट गाने बजाकर दी उन्हें श्रद्धांजलि, 29 मई को गोली मारकर कर दी गई थी हत्या

दिल्ली पुलिस ने हाई एक्सप्लोसिव ग्रेनेड, अंडर बैरेल ग्रेनेड लॉन्चर किया बरामद

दिल्ली पुलिस ने बताया कि इन आरोपियों से एक हाई एक्सप्लोसिव ग्रेनेड, अंडर बैरेल ग्रेनेड लॉन्चर बरामद किया गया है. इसे AK47 पर भी इस्तेमाल किया जा सकता है. इसके अलावा एक असॉल्ट राइफल, 3 पिस्टल, 36 राउंड कारतूस, एक पार्ट AK सीरीज असॉल्ट राइफल का मिला है. प्रियवर्त फौजी हरियाणा के सोनीपत के गढ़ी सिसाना का रहने वाला है. इस पर 2 हत्याओं समेत कुल 11 मामले दर्ज हैं. सोनीपत के खरखौदा और बरोदा थाना में उसके खिलाफ मर्डर का केस दर्ज है. हरियाणा पुलिस ने उस पर 25 हजार का इनाम रखा था. पंजाब पुलिस ने इस मामले में 4 शार्प शूटर्स की शिनाख्त की है. इसमें हरियाणा के सोनीपत के प्रियवर्त फौजी और अंकित सेरसा के अलावा पंजाब के अमृतसर निवासी जगरूप रूपा और मोगा का रहने वाला मनु कुस्सा शामिल है. पंजाब पुलिस इन्हीं चारों की तलाश कर रही है.

Related Articles

Back to top button