सीएए के विरोध में प्रदर्शनकारियों ने खून से प्रधानमंत्री को लिखा पत्र, राजधानी में 60 दिनों से कर रहे हैं धरना-प्रदर्शन

शिवम मिश्रा, रायपुर। CAA, NPR और NRC के विरोध में राजधानी के अम्बेडकर चौक पर 60 दिनों से धरना-प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों ने अपने खून से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिख संविधान बचाने की अपील की है.

बता दें कि जागरूक अधिवक्तागण समिति की ओर से अम्बेडकर चौक पर लगातार विरोध-प्रदर्शन किया जा रहा है. रोज प्रदर्शन के बाद संविधान की शपथ ली जाती है. आंदोलन के 60वें दिन रविवार को विशेष रूप से शहर के युवा शामिल होकर एक अनोखा प्रदर्शन किए. प्रदर्शन के नेतृत्वकर्ता और छत्तीसगढ़ प्रदेश युवा कांग्रेस के सचिव मोहम्मद अनीस निजामी के नेतृत्व में युवाओं ने अपने खून से प्रधानमंत्री को पत्र लिखा.

अनीस निजामी ने बताया कि 1947 के समय हमारे बाप-दादाओं ने अंग्रेजों के खिलाफ लड़ कर स्वतंत्रता सेनानी बने थे, और हमारी खुशनसीब है कि आज 2020 में संविधान बचाने के लिए हम लड़ रहे हैं. आज हमको संविधान सेनानी बनने का मौका मिला है. आजादी के वक्त उन्होंने अपना रक्त बहाया था, और आज हम अपना रक्त बहाने तैयार हैं.

उन्होंने कहा कि मोदी हुकूमत ये समझ ले कि अभी तक शांतिपूर्ण प्रदर्शन करते हुए हम गांधीजी की राह में चल रहे हैं, लेकिन इस प्रदर्शन को क्रांतिकारी रूप में लाने के लिए आज हम अपने रक्त से प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर ये बताना चाहते है कि क्रांतिकारी शहीद भगत सिंह की तरह हम लड़ना जानते हैं, और उन्हीं की तरह शहादत का जाम पीना भी, क्योंकि हम उन कायरों की तरह नहीं जो अंग्रेज हुकमत से माफी नामा लिखते थे.

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।