‘चन्नी हेलीकॉप्टर पर घूमते हैं और मैं सड़कों पर, इसलिए मैं काला हूं, लेकिन पंजाब की मां-बहनों को मेरा रंग पसंद, क्योंकि उन्हें पता है कि मेरी नीयत साफ है’- केजरीवाल

चंडीगढ़। आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल आज पंजाब दौरे पर हैं. वे यहां अमृतसर पहुंचे, जहां मीडियाकर्मियों से बातचीत की. उन्होंने पंजाब सीएम चरणजीत सिंह चन्नी के उस बयान पर प्रतिक्रिया दी, जिसमें उन्होंने आम आदमी पार्टी को ‘काले अंग्रेज’ कहा था. उन्होंने कहा कि ”मैं चन्नी साहब की बहुत इज्जत करता हूं, लेकिन जबसे मैंने सरकार बनने पर हर महिला को एक हजार देने की बात कही है, वे मुझे गालियां दे रहे हैं. इससे पहले उन्होंने कहा था कि मैं सस्ते कपड़े पहनता हूं. मेरे दिए एक हजार रुपए से पंजाब की मां-बहनें नया सूट खरीदेंगे तो मुझे खुशी होगी. उन्होंने काले अंग्रेज कहे जाने पर कहा कि मैं मानता हूं कि मैं गांवों और सड़कों पर घूमता हूं, तो मेरा रंग काला हो सकता है. मैं आपकी तरह हेलीकॉप्टर में नहीं घूमता.”

पंजाब कैबिनेट का बड़ा फैसला, सामान्य वर्ग के गरीब छात्रों के लिए ‘मुख्यमंत्री वजीफा स्कीम’ शुरू, 3 सब तहसीलों को भी हरी झंडी

 

दिल्ली सीएम केजरीवाल ने कहा कि कांग्रेस की नीयत काली है, लेकिन पंजाब की माताओं और बहनों को मेरा काला रंग पसंद है, क्योंकि उन्हें पता है कि मेरी नीयत साफ है. उन्होंने कहा कि अगर पंजाब में AAP की सरकार बनी, तो मैं अपने सारे वादे पूरे करूंगा. केजरीवाल ने कहा कि वह पठानकोट जा रहे हैं, वहां शिक्षा से संबंधित चौथी गारंटी भी देंगे. बता दें कि इससे पहले वे मुफ्त बिजली, स्वास्थ्य और अध्यापकों को लेकर कई वादे किए हैं.

 

पंजाब के सीएम चन्नी ने कहा था ‘काले अंग्रेज’

CM चरणजीत सिंह चन्नी ने बुधवार को अरविंद केजरीवाल पर हमला करते हुए कहा कि पंजाब पंजाबियों का है, लेकिन कुछ काले अंग्रेज बाहर से आकर यहां राज करना चाहते हैं. चन्नी ने कहा था कि केजरीवाल कहते हैं कि पंजाब में अगली सरकार आम आदमी पार्टी बनाएगी. उन्होंने कहा कि क्या पंजाब में लोग नहीं रहते ? क्या पंजाब में युवा नहीं हैं ? क्या पंजाब में पंजाबी नहीं हैं ? क्या ‘काले अंग्रेज़’ यहां आएंगे और राज करेंगे ? मोगा में जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि पंजाब पर केवल उसके लोगों का शासन होगा और ”केजरीवाल जैसे” लोगों को यहां के लोगों की समस्याओं और जरूरतों के बारे में बिल्कुल जानकारी नहीं है.

 

पंजाब में सीएम केजरीवाल ने अध्यापकों को दी थी 8 गारंटी

  1. पंजाब में 18 साल से कच्चे और कॉन्ट्रैक्ट पर अध्यापक काम कर रहे हैं. 18 साल से उनका वेतन 10 हजार रुपए है, जबकि दिल्ली में 15 हजार से कम किसी का वेतन नहीं है. पंजाब में वह न्यूनतम वेतन तय करेंगे.
  2. आप की सरकार बनते ही सभी ठेके वाले और आउटसोर्स टीचर्स को पक्का करेंगे.
  3. ट्रांसफर पॉलिसी में सुधार होगा. घरों के पास काम करने का मौका मिलेगा. अध्यापकों से उनके स्कूल पूछे जाएंगे.
  4. टीचर्स से सिर्फ पढ़ाई करवाई जाएगी. क्लर्क, बीएलओ और मतगणना जैसे काम नहीं करवाए जाएंगे.
  5. पंजाब में टीचर्स के खाली पदों को भरा जाएगा.
  6. दिल्ली में टीचर्स को ट्रेनिंग के लिए विदेश भेजा जाता है, वैसे ही पंजाब के टीचर्स को भी IIM लखनऊ, अहमदाबाद के अलावा अमेरिका और फिनलैंड भेजा जाएगा.
  7. अध्यापकों की प्रमोशन टाइम बाउंड की जाएगी, ताकि सब तरक्की करें.
  8. अध्यापकों के परिवारवालों की भी कैशलेस हेल्स पॉलिसी की जाएगी.

 

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!