वर्ल्ड कप फाइनल के सुपरओवर में इस कीवी खिलाडी़ ने जैसे ही लगाया सिक्सर, कोच की हार्टअटैक से हो गई मौत

स्पोर्ट्स डेस्क- वर्ल्ड कप 2019 का फाइनल मुकाबला सदियों तक याद रहेगा, इतिहास के पन्नों में इसका नाम दर्ज हो गया है, इंग्लैंड पहली बार जहां वर्ल्ड चैंपियन बना तो फाइनल मैच जितना हाईवोल्टेज रहा, और जिस तरह से विश्व विजेता टीम का फैसला हुआ, उसे लेकर आज भी ये फाइनल मुकाबला सुर्खियां बटोर रहा है।

न्यूजीलैंड की टीम बेहतरीन खेल के बाद भी सुपर ओवर में मैच टाई होने के बाद भी वर्ल्ड चैंपियन नहीं बन सकी, क्योंकि इंग्लैंड को बाउंड्री के आधार पर विजेता घोषित कर दिया गया क्योंकि ऐसा  नियम कहता था।

लेकिन न्यूजीलैंड टीम की आज भी तारीफ हो रही है।

फाइनल मैच के सुपर ओवर में एक और बड़ी और दुखद घटना हुई जिसके बारे में उस समय किसी को पता नहीं चला था लेकिन वर्ल्ड कप फाइनल के कुछ दिन बाद ये बात सामने आई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक वर्ल्ड कप फाइनल मैच के सुपर ओवर के मुकाबले में जब न्यूजीलैंड के खिलाड़ी जिमी निशाम ने सिक्सर लगाया तो उसे देखते ही जिमी निशाम के स्कूल टाइम के कोच डिविड जेम्स गोर्डन को हार्ट अटैक आ गया, और उनकी मौत हो गई।

नीशाम के बचपन के कोच की बेटी ने इस बात का खुलासा किया है कि कैसे उनके पिता की मौत हुई।  

कोच की बेटी लियोन के मुताबिक एक नर्स फाइनल ओवर और सुपर ओवर में आई तो उसने बताया कि उनकी धड़कन बदल रही है।

जिमी नीशाम  ने एक ट्वीट कर अपने कोच को श्रृद्धांजली भी दी है, जिमी निशाम ने अपने ट्वीट में लिखा है कि डेव गोर्डन मेरे हाई स्कूल टीचर कोच, और दोस्त, आपका खेल के प्रति बहुत प्यार  था, खासतौर पर उनके लिए जो आपके अंडर में खेले, उम्मीद है कि आपने गर्व महशूस किया होगा, इतना सब देने के लिए धन्यवाद, स्वर्ग में आत्मा को शांति मिले। 

Back to top button
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।