क्या गहलोत और सचिन के बीच हो गया समझौता, बागी विधायक सीएम से मिले, टेपकांड की नहीं होगी जांच !

नई दिल्ली। राजस्थान में अशोक गहलोत की सरकार और कांग्रेस के ऊपर छाए सियासी बादल अब छंटते नजर आ रहे हैं। विधान सभा सत्र के शुरु होने से पहले सचिन पायलट की राहुल और प्रियंका से मुलाकात के बाद जहां जारी गतिरोध को खत्म करने के लिए कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने एआईसीसी की तीन सदस्यीय समिति गठित कर दी है।

वहीं अब जो जानकारी निकलकर सामने आ रही है उसके मुताबिक विधायक खरीद-फरोख्त टेप कांड की जांच बंद करने का गहलोत सरकार ने फैसला लिया है साथ ही पायलट खेमे को यह आश्वासन दिया गया है कि किसी तरह की कोई भी पुलिसिया कार्रवाई नहीं की जाएगी।

राहुल और प्रियंका से मुलाकात के बाद सचिन पायलट और उनके साथ सभी समर्थक विधायक सोमवार रात जयपुर के लिए रवाना होने जा रहे हैं।

इससे पहले पायलट समर्थक विधायक भंवरलाल शर्मा ने सीएम अशोक गहलोत से उनके निवास पर जाकर मुलाकात की थी। मुलाकात के बाद भंवरलाल शर्मा ने मीडिया से बातचीत में कहा अशोक गहलोत सरकार को सेफ बताया था और कहा था कि सरकार बहुमत में हैं। आपको बता दें विधायक खरीद फरोख्त के दो ऑडियो आए थे। इन ऑडियो के आने के बाद कांग्रेस ने दावा किया था कि टेप में शर्मा की ही आवाज थी और वे बीजेपी नेताओं से विधायकों की डील कर रहे थे।

loading...

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।