राजधानी में खुला एशियन एकेडमी ऑफ फिल्म टेलीविजन यूनिवर्सिटी, छात्र सीखेंगे फिल्म निर्माण की बारिकियां…

शिवम मिश्रा, रायपुर- एशियन एकेडमी ऑफ फिल्म टेलीविजन यूनिवर्सिटी (AAFT) ने पत्रकार वार्ता रखकर अपनी पहली बैच की शुरुआत की गई. इस कार्यक्रम में (AAFT) के कुलपति संदीप मारवाह और फिल्म अभिनेत्री सोहा अली खान भी मौजूद थीं.

कार्यक्रम के बारे में कुलपति संदीप मारवाह ने बताया कि एशियन एकेडमी ऑफ फिल्म के नाम से 26 सालों से फिल्म एजुकेशन शुरू की थी. जिसे शॉर्ट फॉर्म में (AAFT) के रुप में देखा जाता है. हम लोग लगभग 70 हजार मीडिया प्रोफेशनल तैयार कर चुके हैं. हम लोगों ने उत्तर भारत में अपनी जगह बनाई है और दुनिया के हर क्षेत्र में काम कर रहे हैं.

कार्यक्रम में शामिल होने पहुंची मशहूर अभिनेत्री सोहा अली खान ने कहा कि फ़िल्म इंडस्ट्री में वो कुछ समय पहले ही आयी थी. और उन्होंने यहाँ के बच्चों से अपनी हिंदी फ़िल्म की एक्सपीरियंस के बारे में बात किया और बताया कि वो बंगाली और इंग्लिश फ़िल्मों में भी काम कर चुकी हैं.

इस कार्यक्रम में उन्होंने बताया कि हमारे भारतीय एजुकेशन सिस्टम को किस तरीक़े से डिज़ाइन करना चाहिए, क्योंकि उसमें हर प्रकार की कलाकारियां और स्किल रहे. उनका कहना यह था अगर हमें फ़िल्में बनानी है तो हमें हर तरह के लोगों की ज़रूरत होती है. एक फ़िल्म जैसे बिना स्क्रिप्ट मैन,  फोटोग्राफर, कैमरापर्सन, सिनेमेटो ग्राफर के बिना अधूरी है. वैसे ही एजुकेशन सिस्टम भी अगर उसमें हर स्किल न हो. हर तरीक़े के क्वालिटी न हो तो वो अधूरा है.

सोहा अली खान ने ये भी बताया कि एजुकेशन सिस्टम सिर्फ़ पढ़ाई और स्किल्स से नहीं बना हुआ है. एजुकेशन सिस्टम इस तरीक़े से बना होना चाहिए कि बच्चों का और छात्र और छात्राओं का विकास होना चाहिए. उनको बात करने का तरीक़े से लेकर उन्हें हर किसी क्षेत्र की चीज़े आनी चाहिए. इससे वो सिर्फ़ पढ़ाई ही नहीं बल्कि अपनी आने वाली ज़िंदगी और अपनी रोज़ की ज़िंदगी में एक प्रैक्टिकल इंसान बन सकते हैं.

Back to top button
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।