पॉवर गॉशिप: कांग्रेस को जैसे संजीवनी मिल गई हो…साढ़े आठ बजे सोकर उठीं प्रत्याशी…टेंडर में चल रहा है दो परसेंट का खेल…नेताजी का ग्रुप लेफ्ट, कांग्रेस नेताओं की सांसें हुई ऊपर नीचे…माननीय को हेलीकॉप्टर पसंद नहीं…

पॉवर गॉशिप:  ऐसा जुलुम…शिष्टाचार में तीन प्रतिशत की बढ़ोतरी… बुरा न मानो, हमारी भी तो होली है… मंशा अनुरूप दाल नहीं गली… चेहरे बदलने होंगे…विधायकजी को नहीं पच रही निगम में तवज्जो…आखिर जा क्यों रहे हैं…और आखिरी वक्त में रुक गया ये दिग्गज…मुरैना नहीं, खींचतान का जड़ विदिशा था 

पॉवर गॉशिप: यह तो साजिश है..बड़ी साजिश…अरबों के मास्टर प्लान का मास्टर माइंड कौन…10 दिन तक सक्रिय नहीं हुए थे साथी…गलियों के सर्वे से BJP में अति-उत्साह…कांग्रेस को 2014 की घटना का डर और कट गया टिकट…गांधी परिवार का करीबी होने के चलते बच गया टिकट

पॉवर गॉशिप: जब टिकट फाइनल कमेटी के सदस्य ने खुद का आगे बढ़ाया नाम… पिछले वादे को विरोधियों ने बनाया मुद्दा, फंसा दिया टिकट… चाहत कम नहीं फिर बनना है सांसद, टिकट कटा तो छोड़ी पार्टी… IAS अधिकारी का तबादला, अब बीवी के ट्रांसफर के लिए परेशान

पॉवर गॉशिप: अटल जी के परिवार पर नजर, जाति के कारण बचा टिकट, बिना काम के मंत्रीजी, हम कांग्रेस में, लेकिन नेता वही हैं, व्यवस्था फिर हो गई भंग, मंत्रालय जैसे कलेक्टर कार्यालय हो…

पॉवर गॉशिप: BJP की पहली लिस्ट, कांग्रेस के दिग्गज का बिगड़ा खेल, कांग्रेस नेताओं में कम्युनिकेशन गैप ! तुम दिन को रात कहो तो रात कहेंगे, साहब के कार्यक्रम से पब्लिक गायब, सीनियर IAS ने जूनियर IAS को फटकारा

पॉवर गॉशिप: मॉनिटर भी अमित शाह की प्लानिंग का हिस्सा होगा, मानवाधिकार आयोग देरी से पहुंचे नेताजी, पटवारी मैडम पावर में हैं, दिन तो अपने भी थे, चुनाव हारे तो मान बैठे किसान नेता, कमलनाथ के बिन बुलाए ‘बाराती’

पॉवर गॉशिप: इंतजार करते रहे विधायकों को नहीं आया कॉल, हेलो…BJP में क्या होगा अपना भविष्य, मंत्रीजी ने छोटे भैया को हल्के में ले लिया था, तत्काल प्रभाव से हैरान रह गए महोदय, आवास आवंटन की बड़ी चिंता है…

पॉवर गॉशिप:  तैयारी दिल्ली ने कर रखी है… आनन-फानन में पहुंचेंगे नेता…एमपी कांग्रेस में कुर्सी की लड़ाई…जब उड़ गए अफसरों के होश…चुनाव लड़ना है लेकिन पैसे नहीं हैं 

पॉवर गॉशिप: विधायक जी की बैठक चल रही है…अकेला कलेवर नहीं काम भी तो बदल रहा है…शहरी वालों के काम अटक गए…टिकट दिया तो इस्तीफा दे दूंगा…थानेदार को ‘व्यवस्था’ की चिंता