T20 विश्व कप: BCCI ने उठाया बड़ा कदम, भारतीय टीम के 4 खिलाड़ियों को भेजा वापस, जानिए वजह …

दिल्ली. आईसीसी टी-20 विश्व कप 2021 में 24 अक्टूबर को महामुकाबला खेला जाएगा. इस महामुकाबला में भारत और पाकिस्तान टीमों के बीच हाई वोल्टेज मैच देखने को मिलेगा. लेकिन इस महामुकाबले से पहले भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने बड़ा कदम उठाया है. भारतीय टीम में शामिल चार क्रिकेटरों को BCCI ने वापस भारत भेजने का फैसला किया है.

भारतीय टीम के 4 खिलाड़ियों को भेजा वापस

बता दें कि BCCI ने टी-20 विश्व कप के दौरान जिन खिलाड़ियों को वापस भेजने का आदेश दिया है, उनमें नेट गेंदबाज शाहबाज नदीम, कृष्णप्पा गौतम, कर्ण शर्मा, और वेंकटेश अय्यर शामिल हैं. टी-20 विश्व कप को देखते हुए BCCI ने बल्लेबाजों की तैयारी करने के लिए 8 नेट गेंदबाज चुने थे. यूएई से वापस आने वाले यह सभी चारों गेंदबाज घरेलू टूर्नामेंट के तहत सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में खेलते नजर आएंगे.

इसे भी पढ़ें – OTT Lovers के लिए काम की खबर : Amazon Prime मेंबर्स को बड़ा झटका, भारत में बढ़ी सब्सक्रिप्शन फीस …

BCCI ने दी तेज गेंदबाजों को दी अहमियत 

इन चार गेंदबाजों के स्वदेश आने बाद उमरान मलिक, आवेश खान, हर्षल पटेल और लुकमान मेरिवाला को भारतीय टीम के साथ बरकरार रखा गया है. विश्व कप के दौरान नेट गेंदबाज के रूप में BCCI ने तेज गेंदबाजों को ज्यादा तवज्जो दी है. ये चारों तेज गेंदबाज पूरे विश्व कप में टीम इंडिया के साथ बने रहेंगे.

मीडिया से बात करते हुए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, विश्व कप शुरू होने के बाद ज्यादा नेट सेशन नहीं होने वाले हैं, इस वजह से राष्ट्रीय चयनकर्ताओं को लगा कि इन गेंदबाजों को सैयद मु्श्ताक अली ट्रॉफी में खेलना चाहिए, जिसके चलते इन खिलाड़ियों को मैच प्रैक्टिस मिलेगी. सैयद मुश्ताक अली टी-20 टूर्नामेंट की शुरुआत 4 नवंबर से होगी.

इसे भी पढ़ें – Protein : आपके शरीर में भी हो सकती है प्रोटीन की कमी, जानिए इसके मुख्य 10 लक्षण …

हर्षल ने लिए थे IPL में सबसे ज्यादा विकेट

हाल ही में संयुक्त अरब अमीरात में संपन्न हुए IPL 2021 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के गेंदबाज हर्षल पटेल सबसे ज्यादा 32 विकेट लिए थे. उनके बाद दिल्ली कैपिटल्स के बॉलर आवेश खान दूसरे नंबर पर रहे. वहीं, जम्मू-कश्मीर के तेज गेंदबाज उमरान मलिक ने अपनी रफ्तार से समा बांधा था.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!