प्रेरणादायक कहानी, एक ब्यूटी क्वीन कैसे बनीं आर्मी आफिसर, जानिए पूरी कहानी…

नई दिल्ली. जोश, जुनून और जज्बा हो तो इंसान कुछ भी कर सकता है. उसे सफल होने से कोई नहीं रोक सकता. हम बात कर रहे हैं हरियाणा की रहने वालीं ब्यूटी क्वीन गरिमा यादव की. उसके मन में शुरू से ही देश के लिए कुछ कर गुजरने की इच्छा थीं. अचानक एक दिन उन्होंने मॉडलिंग छोड़ दी. और सिविल सेवा की तैयारी शुरू कर दी. पहले ही प्रयास में वो सफल हो गई. आज वो एक सफल आर्मी आफिसर हैं.

गरिमा यादव के भारतीय आर्मी ऑफिसर बनने का यह सफर कई लोगों को प्रेरित करता है. खूबसूरत महिलाओं की रूचि अधिकतर मॉडलिंग और एक्टिंग में होती है लेकिन गरिमा यादव ने ब्यूटी कॉन्टेस्ट जीतने के बाद भी अपना जीवन देश की सेवा करने के लिए समर्पण कर दिया. गरिमा यादव ने यह साबित कर दिया है कि एक देशभक्त को अपने देश की रक्षा के लिए हमेशा तैयार रहना चाहिए और अगर वह सभी संभव परिश्रम करता है, तो कुछ भी संभव है.

गरिमा ने नवंबर 2017 में ‘इंडियाज मिस चार्मिंग फेस-2017’ का ख़िताब जीता था, और उन्हें अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अगले मुकाबले के लिए चुना गया था. यह ख़िताब जीतना भी कोई आम बात नहीं है, गरिमा ने 20 राज्यों की लड़कियों को पछाड़ कर यह ख़िताब हासिल किया था. यह प्रतियोगिता जीतने के बाद उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय स्तर के मुकाबले की बजाए अपने सपने को पूरा करने की ठानी. उन्होंने ओटीए चेन्नई में शामिल होने का फैसला किया.

रेवाड़ी के सुरहेली गांव की गरिमा यादव ने अपनी स्कूली शिक्षा शिमला के आर्मी पब्लिक स्कूल से पूरी की और मॉडलिंग में कदम रखा, यह उनकी पहली कैरियर पसंद नहीं थी. उन्हें फिर दिल्ली विश्वविद्यालय के सेंट स्टीफन कॉलेज में प्रवेश मिला. गरिमा आईएएस बनना चाहती थी, लेकिन वह इसके दूसरे स्तर की परीक्षा उत्तीर्ण नहीं कर पायी. फिर बाद में उन्होंने आर्मी की परीक्षा पास की.        

Back to top button
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।