whatsapp

BIG NEWS: UP में GST टीम की बड़ी कार्रवाई; प्रदेश के 71 शहरों में 248 टीमों ने मारा छापा, 100 करोड़ की टैक्स चोरी पकड़ाई

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के 71 शहरों में GST की टीम ने बड़ी कार्रवाई की है. GST की 248 टीम अलग-अलग शहरों में छापा मारा है. इस कार्रवाई में बताया जा रहा है कि 100 करोड़ रुपए से ज्यादा की टैक्स चोरी पकड़ी गई है. करीब 50 करोड़ कीमत का मैटेरियल अलग-अलग शहरों से जब्त हुआ है, क्योंकि कारोबारी मौके पर दस्तावेज ही नहीं दिखा सके. जबकि करीब ढाई करोड़ रुपए कारोबारियों से ऑन स्पॉट जमा कराए गए हैं.

अभी ये रेड का सिलसिला 15 दिसंबर तक चलेगा, मगर शुरुआत में ही बड़ी कामयाबी मिली है। इस छापामारी में वित्त विभाग, राजस्व, खुफिया महानिदेशालय के अधिकारी शामिल रहे।

दरअसल, राज्य कर विभाग को लगातार इनपुट मिल रहे थे कि कई व्यापारी बगैर बिल के माल की बिक्री कर रहे हैं. इस तरह बड़े पैमाने पर टैक्स चोरी हो रही है. जिसको लेकर राज्य कर विभाग की 248 टीमों ने अलग-अलग जिलों में एक साथ छापेमारी की है.

इसे भी पढ़ें– ज्ञानवापी मामले में आज भी सुनवाई, शिवलिंग की कार्बन डेटिंग की मांग पर वकील रखेंगे पक्ष

GST की यह छापेमार कार्रवाई इटावा, मैनपुरी, मुजफ्फरनगर और रामपुर को छोड़कर प्रदेश के 71 जिलों में चल रही है. कार्रवाई लकड़ी, फर्नीचर, स्क्रैप, परचून, घी, तेल, हार्डवेयर, बिल्डिंग मैटेरियल, आयरन, स्टील, मेंथा, होटल आदि का व्यवसाय करने वाले व्यापारियों पर जारी है. ये सभी व्यापारियों द्वारा टैक्स की चोरी की जा रही है. इस दौरान इसमें फर्जी इन्वाइस जारी करके कर चोरी मिली है.

राजधानी लखनऊ में नादरगंज और अमीनाबाद में छापामारी हुई है. वाराणसी में GST की टीम ने एक साथ 14 फर्मों पर की छापेमारी की है. सीतापुर में भी एक होटल समेत 6 स्थानों में छापेमारी की. मथुरा में GST टीम ने एक साथ 14 फर्मों पर छापेमारी की. चंदौली, अयोध्या, रायबरेली में भी यह कार्रवाई हुई है. जहां से माल जब्त हुए हैं और टीम दस्तावेज खंगाल रही है. गाजियाबाद में 8 लोहे की कंपनियों पर छापा पड़ा है.

इसे भी पढ़ें – UP विधानसभा का शीतकालीन सत्र शुरू, CM योगी ने मुलायम सिंह यादव को दी श्रद्धांजलि

छतीसगढ़ की खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक 
मध्यप्रदेश की खबरें पढ़ने यहां क्लिक करें
उत्तर प्रदेश की खबरें पढ़ने यहां क्लिक करें
दिल्ली की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
पंजाब की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
English में खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
खेल की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
मनोरंजन की खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक

Related Articles

Back to top button