BIG BREAKING: विधायक बृहस्पति सिंह का TS सिंह देव पर गंभीर आरोप, कहा- महाराजा हैं मेरी हत्या भी करा सकते हैं, देखें LIVE VIDEO

हत्या कराने से अगर सिंहदेव मुख्यमंत्री बन सकते हैं तो उन्हें ये पद मुबारक़ हो- बृहस्पति सिंह

रायपुर। छत्तीसगढ़ में विधायक बृहस्पति सिंह पर हमले के बाद  राजनीति तेज हो गई है. आदिवासी नेता और वरिष्ठ विधायक बृहस्पति सिंह 12 MLA मिलने पहुंचे हैं. बृहस्पति सिंह के घर पर करीब दो दर्जन विधायक जुटे  हैं. इस दौरान विधायक बृहस्पति सिंह ने कहा कि महाराजा हैं मेरी हत्या भी करा सकते हैं.

विधायक बृहस्पति सिंह पर हमले पर बवाल

कांग्रेस विधायक बृहस्पति सिंह ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि मुझे जान का खतरा है. मुझ पर हमले के पीछे मंत्री टीएस सिंहदेव का हाथ है. महाराजा हैं मेरी हत्या करा सकते हैं. हत्या कराने से अगर सिंहदेव मुख्यमंत्री बन सकते हैं तो उन्हें ये पद मुबारक़ हो. मंत्री सिंहदेव कांग्रेस विधायकों का अपमान करते हैं.

बृहस्पति सिंह ने कहा कि विधायक दल की बैठक में जा रहे हैं. सभी विधायकों ने जाना की क्या कुछ घटना हुई है. पीएल पुनिया से अनुरोध करेंगे कि जो मंत्री छवि खराब कर रहे हैं, उन्हें बाहर का रास्ता दिखाएं. गुंडागर्दी करने वाले विधायक और मंत्री को कार्रवाई हो. आदिवासी विधायक हूं, मेरी भी मान सम्मान है.

सोनिया और राहुल गांधी से शिकायत कर रहा हूं. विधायक दल की बैठक में अपनी बात रखूंगा. प्रदेश कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया, विधानसभा अध्यक्ष, विधानसभा उपाध्यक्ष से मैं शिकायत करूंगा. मुझे लगता है कि जिससे सरकार की छवि खराब हो ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए.

बृहस्पति सिंह ने कहा कि अपने परिवार के भतीजे से वो हमला करवा रहे हैं. वो कभी भी मेरे ऊपर हमला करा सकते हैं. बीजेपी क्या सोचती है मुझे नहीं मालूम. कोई भी व्यक्ति दहशत औऱ भय फैलता है. हमला करता है. पार्टी उस पर कार्रवाई करे. पीएल पुनिया के माध्यम से राहुल गांधी को पत्र भेजेंगे. बता दें कि जो विधायक मिलने आए थे, सभी विधायक वरिष्ठ विधायक बृहस्पति सिंह के पक्ष में हैं. सभी उनका साथ दे रहे हैं.

बता दें कि वरिष्ठ आदिवासी नेता और रामानुजगंज से कांग्रेस विधायक बृहस्पति के काफिले पर 24 जुलाई को हमला हुआ था. जानकारी के मुताबिक शहर के बंगाली चौक के पास सुरक्षा कर्मियों के वाहन पर हमला हुआ था. रामानुजगंज विधायक बृहस्पति सिंह कोतवाली थाना पहुंचे थे. जहां मामले की शिकायत दर्ज कराई थी.

वहीं स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि मेरी पुलिस अधीक्षक से बात हुई है. उनसे मैने कहा कि मामले में शामिल आरोपियों के खिलाफ जांच कर कार्रवाई की जाए. इस तरह की वारदात बर्दाश्त के लायक नहीं है. मैने विधायक बृहस्पति सिंह से भी बात करने की कोशिश की, लेकिन उन्होंने कॉल रिसीव नहीं किया.

इधर मामले पर सरगुजा एसपी अमित कुमार का कहना है कि विधायक के काफिले के पीछे चल रहे वाहन में जिसमें विधायक के पीएसओ उनसे कल झगड़ा हुआ था. पुलिस ने धारा 294, 506, 341 और 427 के तहत एफआईआर दर्ज कर 3 लोगों को हिरासत में लिया है. इनमें मुख्य आरोपी सचिन सिंहदेव और दो अन्य हैं. पुलिस मामले की और गंभीरता से जांच कर रही है.

 

 

देखिए वीडियो

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।