BJP नेता के बेटे ने छात्रा से की छेड़छाड़, दहशत में युवती ने छोड़ा कॉलेज, पीड़ित परिवार को दी जा रही धमकी

मेरठ. कंकरखेड़ा में BJP नेता अशोक शर्मा के बेटे शेखर ने घर में घुसकर दूसरे वर्ग की छात्रा से साथ छेड़छाड़ कर दी. छात्रा के परिजनों ने थाने में तहरीर दी, लेकिन पुलिस ने भाजपा नेता के दबाव में केस दर्ज नहीं किया. इस पर छात्रा ने चेतावनी दी कि आरोपी पर कार्रवाई नहीं हुई तो वह आत्महत्या कर लेगी. इसके बाद मुकदमा लिखा गया. बीएड की यह छात्रा सीटेट की तैयारी कर रही है. दहशत के चलते अब उसने कॉलेज छोड़ दिया है. समझौता न करने पर पीड़ित परिवार को धमकी दी जा रही है.

मामला कंकरखेड़ा थानाक्षेत्र के एनएच-58 हाईवे स्थित एक गांव का है. कंकरखेड़ा भाजपा मंडल मंत्री अशोक शर्मा के बेटे शेखर का गुरुवार को गांव के कुछ युवकों से विवाद हो गया था. आरोप है कि इसी दौरान शेखर ने दूसरे वर्ग के व्यक्ति के घर में घुसकर उनकी बेटी से छेड़छाड़ कर दी. बेटी ने शोर मचाया तो परिवार के लोग दौड़कर पहुंचे. आरोप है कि शेखर ने उनके परिवार को धमकी दी कि वह BJP नेता का बेटा है. पुलिस उसका कुछ नहीं बिगाड़ सकती. वह धमकी देकर चला गया. पीड़ित परिवार बेटी को लेकर थाने पहुंचा. पुलिस ने तहरीर ली, लेकिन मुकदमा नहीं लिखा. शुक्रवार को छात्रा ने चेतावनी दी कि अगर आरोपी पर कार्रवाई नहीं हुई तो वह आत्महत्या कर लेगी. इसकी जानकारी लगने पर शुक्रवार रात में पुलिस ने शेखर के खिलाफ छेड़छाड़ और धमकी की धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया. रात में पुलिस ने दबिश भी दी. इसकी जानकारी लगने पर शनिवार सुबह नामजद शेखर के पक्ष में खुद को समाजसेवी बताने वाले सचिन सिरोही अपने कार्यकर्ताओं के साथ थाने में पहुंचे. पीड़ित छात्रा और उसके परिवार पर आरोप लगाकर हंगामा भी किया.  

इसे भी पढ़ें – Noida News : ई-रिक्शा चालक को 90 सेकंड में 17 बार थप्पड़ मारने वाली BJP नेत्री गिरफ्तार, सोशल मीडिया पर Video हुआ था वायरल

पीड़ित छात्रा ने बताया कि उसके परिवार पर दबाव बनाया जा रहा है. वह बीएड की स्टूडेंट है और सीटेट की तैयारी कर रही है. इस सरकार में वह भी खुद को सुरक्षित मानती थी, लेकिन उसके साथ हुई घटना से वह दहशत में है. माता-पिता इतने डरे हैं कि उन्होंने मेरा कॉलेज तक छुड़वाने का फैसला सुना दिया. आरोपी पक्ष से धमकी मिल रही है कि वह भाजपा में हैं और कोई उनका कुछ नहीं बिगाड़ सकता. शेखर पर मुकदमा दर्ज होने पर समझौते का परिवार पर कुछ लोग दबाव बना रहे हैं. छात्रा के पिता ने बताया कि गांव में मुस्लिम वर्ग में सिर्फ उसकी बेटी पढ़ाई कर रही है. बेटी से उम्मीद थी कि वह पढ-लिखकर उनका सहारा बनेगी. बेटी के साथ छेड़छाड़ की घटना से वह आहत हैं. वह पुलिस अधिकारियों से इंसाफ की गुहार लगा रहे हैं.

छतीसगढ़ की खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक 
मध्यप्रदेश की खबरें पढ़ने यहां क्लिक करें
उत्तर प्रदेश की खबरें पढ़ने यहां क्लिक करें
दिल्ली की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
पंजाब की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
लल्लूराम डॉट कॉम की खबरें English में पढ़ने यहां क्लिक करें
खेल की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
मनोरंजन की खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक

Related Articles

Back to top button