whatsapp

अगली बार सेना दिग्विजय, राहुल और केजरीवाल को प्लेन में बांधकर ले जाए: सर्जिकल स्ट्राइक वाले बयान पर MLA रामेश्वर शर्मा का पलटवार

अमृतांशी जोशी, भोपाल। जम्मू में भारत जोड़ो यात्रा के दौरान पूर्व सीएम व कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह (Congress leader Digvijay Singh) द्वारा सर्जिकल स्ट्राइक (surgical strike) के सबूत मांगने पर फिर सियासी विवाद बढ़ गया है। बीजेपी विधायक रामेश्वर शर्मा (BJP MLA Rameshwar Sharma) ने पलटवार करते हुए कहा कि सेना अध्यक्ष से मेरा आग्रह है कि अगली बार जब सर्जिकल स्ट्राइक करने जाए, तो हेलीकॉप्टर पर दिग्विजय सिंह, राहुल गांधी और केजरीवाल को लटकाकर लेकर जाए और जहां पर बम गिराए, वहां इन तीनों महापुरुषों को भी फेंक दिया जाए। जिससे की ये दोबारा आकर बता सके कि कितने दुश्मन मरे।

दिग्विजय के सर्जिकल स्ट्राइक बयान पर MP में सियासी घमासानः केंद्रीय मंत्री सिंधिया ने साधा निशाना, बोले- राष्ट्र विरोधी क्रियाओं की सूची में एक कड़ी और जोड़ा

विधायक रामेश्वर शर्मा ने कहा कि दिग्विजय, राहुल और अरविंद केजरीवाल ये तीन लोग पैदा भारत में हुए हैं, लेकिन गुणगान पाकिस्तान और आतंकवाद का करने में लगे रहते हैं। भारत की सेना दमदार है, जिन पर पूरे भारत को भरोसा है। लेकिन ये तीनों नेता सवाल उठाते रहते हैं। वहीं कमलनाथ द्वारा दिग्विजय के बयान से किनारा करने पर उन्होंने कहा कि बयान से किनारा करना है तो दिग्विजय सिंह को कांग्रेस से बाहर करो।

नाबालिग की संदिग्ध मौत! मां बोली- रात में बहला-फुसलाकर गुलजार अली ले गया था, फिर घर लौटी बेटी की लाश, पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी को कस्टडी में लिया

बता दें कि कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) ने सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाया था। उन्होंने कहा था कि हमारे सीआरपीएफ के 40 जवान पुलवामा में शहीद हुए थे। सीआरपीएफ के अधिकारियों ने पीएम मोदी से अनुरोध किया था कि सभी जवानों को एयरलिफ्ट किया जाए, लेकिन पीएम मोदी नहीं माने। ऐसी चूक कैसे हो गई ? उन्होंने कहा कि आज तक पुलवामा पर संसद के सामने कोई रिपोर्ट नहीं रखी गई। उन्होंने दावा किया कि सर्जिकल स्ट्राइक किया गया, लेकिन सबूत नहीं दिखाया। ये (बीजेपी) सिर्फ और सिर्फ झूठ फैलाते हैं।

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

Related Articles

Back to top button