whatsapp

शराब दुकान का ऐसा विरोध की बीजेपी कार्यकर्ता ही सरकार की खिलाफत में उतर आए

कैलाश जायसवाल, रायपुर-  शहर के डूंडा इलाके में शराब दुकान खोले जाने का विरोध लगातार जारी है. आलम यह है कि स्कूली बच्चे पढ़ाई छोड़ आंदोलन में जुटे हैं. शराब दुकान वापस लेने की मांग को लेकर महिलाओं से लेकर हर उम्र वर्ग के लोग सड़कों पर जमें हुए हैं. शराब दुकान हटाने की मांग को लेकर कांग्रेस और जोगी कांग्रेस के राजनीतिक आंदोलन के बाद अब बीजेपी के स्थानीय नेता भी विरोध में उतर आए हैं. राजनीतिक दलों ने चेतावनी भी दी है कि जब तक शराब दुकान नहीं हटाई जाएगी. आंदोलन लगातार जारी रहेगा.
दरअसल डूंडा के जिस इलाके में शराब दुकान खोली जा रही है, वहां स्कूल के साथ-साथ बड़ी तादात में रहवासी हैं. लिहाजा दुकान का विरोध जमकर हो रहा है. पिछले दिनों सैकड़ों की तादात में स्थानीय लोगों ने रायपुर कलेक्टरोरेट का घेराव कर शराब दुकान हटाने की मांग की थी, लेकिन प्रशासन की ओर से किसी तरह का सकारात्मक जवाब आते ना देखकर स्थानीय लोग आंदोलन पर बने हुए हैं.

जब बीजेपी के नेताओं ने अपनी ही सरकार के खिलाफ की नारेबाजी

शराब दुकान हटाने की मांग को लेकर चल रहे आंदोलन के बीच कांग्रेस और जोगी कांग्रेस के बाद बीजेपी भी मैदान में आ गई है. बीजेपी के स्थानीय नेताओं ने भगवा गमछा डालकर बीजेपी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की है. नेताओं ने दो टूक कहा है कि जब तक शराब दुकान नहीं हटाई जाएगी. आंदोलन जारी रहेगा.

Related Articles

Back to top button