बजट को चेंबर ने बताया संतुलित तो मर्चेंट एसोसिएशन ने बताया किसानों पर फोकस…

रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बजट से उद्योग व लघु उद्योग व छोटे व्यापारियों को फायदा होगा. यह बात छत्तीसगढ़ चैम्बर ऑफ कॉमर्स के कार्यकारी अध्यक्ष ललित जैसिंघ  ने कही.

जैसिंघ ने कहा कि छत्तीसगढ़ में 5 नए फ़ूड पार्क खोले जाने से छोटे उद्योग का फायदा होगा और छत्तीसगढ़ का व्यापार बढेगा. 400 यूनिट बिजली बिल हाफ की घोषणा से भी छोटे व्यापारियों को राहत मिलेगी व लघु उद्योग साथ में बड़े उद्योग अब अपना सामान सीएसआईडीसी को दे सकेंगे. अभी तक उद्यमियों को सही कीमत नहीं मिल पाती, इस कारण छत्तीसगढ़ का उद्योग पनप नही पा रहा था. 35 किलो चावल की घोषणा का सरकार ने बड़ा कदम उठाया है, वहीं किसानों को भी सरकार ने बड़ी राहत दी है. उन्होंने कहा कि चैम्बर कीकुछ मांगें जैसे – मंडी शुल्क माफ् की बात व गुमास्ता लाइसेंस समाप्त करने की घोषणा नहीं हो पाई. उम्मीद करते हैं कि आने वाले समय पर चैम्बर की मांग मुख्यमंत्री पूरी करेंगे.

 किसानों पर केन्द्रित बजट – मर्चेन्ट एसोसिएशन

मर्चेन्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष सतीश जैन, उपाध्यक्ष रजा खान, महासचिव राजा पंसारी ने कहा कि मुख्यमंत्री बघेल ने बजट में कृषि कल्याण व आम जनता पर विशेष ध्यान दिया है. जहां 400 यूनिट बिजली को हाफ किया गया है. किसानो को जीरो प्रतिशत में ऋण, 5 नये फुड पार्क की घोषणा एक अच्छा कदम है. बजट में कांग्रेस के वादे व घोषणा के अनुसार अफसरशाही व भ्रष्टाचार के रोकथाम के लिए मंडी टैकस, लोक सेवा गांरटी अधिनियम, शराब बंदी, गुमास्ता कानून समाप्त करना, डायवर्सन शुल्क सरलीकरण, चिटफंड कंपनी के लिए विशेष अदालत तथा महंगाई बढ़ने के लिए जिम्मेदार पैट्रोल व डीजल पर लगने वाले जीएसटी पर विशेष ध्यान नहीं दिया गया है. मर्चेंट के पदाधिकारियों ने  हाफ बिजली बिल के लिए सीमा 400 यूनिट को बढ़ाकर 600 यूनिट करने की मांग की है.

Advertisement
Back to top button
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।