Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

रायपुर। छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह और भाजपा के वरिष्ठ नेताओं पर टूलकिट मामले में दर्ज FIR के विरोध में रायपुर बीजेपी नेताओं ने प्रोटेस्ट किया. रायपुर बीजेपी के जिला जिला अध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी के नेतृत्व में बीजेपी ने धरना प्रदर्शन किया. रायपुर शहर के सभी थानों में प्रदर्शन कर स्वयं को गिरफ्तार करने की मांग की. इस दौरान बीजेपी नेताओं ने पुलिस प्रशासन और सरकार पर कई गंभीर आरोप लगाए.

रमन सिंह के खिलाफ दर्ज FIR का विरोध

श्रीचंद सुंदरानी ने कहा कि भाजपा अपने सभी कार्यकर्ताओं के विरुद्ध हुए अन्याय में हमेशा साथ रहता है, लेकिन इस समय तो कांग्रेस ने भाजपा के दिलों में राज करने वाले नेता पर आरोप लगाया है, जो उनकी क्षुद्र मानसिकता को दर्शाता है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस जानती है कि वह अपने ढाई वर्ष के कार्यकाल में इतनी अलोकप्रिय हो गई है. वह भाजपा में सीधी लड़ाई से नहीं जीत सकती है, इसलिए वह यह हथकंडे अपना रही है.

भाजपा नेता छगन मूंदड़ा का बयान

भाजपा नेता छगन मूंदड़ा ने कहा कि कांग्रेस सुनियोजित तरीके से भाजपा के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बदनाम कर रही है. इन लोगों ने एक टूल किट बनाया और उस टूल किट के माध्यम से उन लोगों ने अपने पूरे कार्यों को करके यह लोग देश की छवि को विदेश में बदनाम किया. जब भारतीय जनता पार्टी ने इसका पर्दाफाश किया तो वह कहते हैं कि उनकी टीम ने नहीं बनाया है. वह भारतीय जनता पार्टी के नेता और कार्यकर्ताओं पर FIR कराते हैं.

नरेश गुप्ता का बयान

नरेश गुप्ता ने कहा कि सोशल मीडिया पर टूलकिट को लेकर कांग्रेस का एक्स्पोज़र हुआ था, जिसके बाद रमन सिंह ने ट्वीट किया और पुलिस प्रशासन ने शासन के दबाव पर फर्जी तरीके से एफआईआर दर्ज कर लिया गया. अवैधानिक कार्य किया और ट्विटर पर जो हमें नोटिस मिलती है, वह ट्विटर पर जारी किया जाता है. सरकारी संपत्ति को ट्विटर पर जारी कर दिए थे. पुलिस प्रशासन पर राज्य सरकार ने कब्जा कर लिया है.

राजकुमार राठी का बयान

राजकुमार राठी ने कहा कि सिविल लाइन थाना में रमन सिंह के खिलाफ 19 तारीख को दबाव पूर्वक 19 तारीख को संबित पात्रा का भी नाम जुड़ा गया. 4:05 पर नेता आवेदन देते हैं और 4 मिनट का 6 मिनट पर एफआईआर होती है. इन सब के पीछे सरकार का षड्यंत्र है. टूलकिट जो मामला है वह राष्ट्रद्रोह का मामला है.

इसे भी पढ़ें: मॉब लिंचिंग : मारपीट का वीडियो हुआ वायरल, 4 आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

read more- Corona Horror: US Administration rejects India’s plea to export vaccine’s raw material

दुनियाभर की कोरोना अपडेट देखने के लिए करें क्लिक