‘ओमिक्रॉन’ ने बढ़ाई चिंता, विधायक ने की स्कूल बंद करने की मांग, स्कूल संगठन ने जताया विरोध

सुप्रिया पांडेय, रायपुर। कोरोना के नए वैरिएंट ‘ओमिक्रॉन’ ने एक बार फिर लोगों को अपने नौनिहालों के स्वास्थ्य को लेकर चिंता में डाल दिया है. संसदीय सचिव एवं विधायक विकास उपाध्याय ने लोगों की इस चिंता को व्यक्त करते हुए शैक्षणिक संस्थानों को बंद करने की वकालत की है, वहीं दूसरी ओर निजी स्कूल एसोसिएशन ऐसे किसी भी कदम का विरोध कर रहा है.

संसदीय सचिव एवं विधायक विकास उपाध्याय ने कोरोना के नए वेरिएंट ‘ओमिक्रॉन’ के खतरे को देखते हुए राज्य सरकार से मांग की है कि इसके पहले कि संक्रमण फैले समस्त शैक्षणिक संस्थानों को बंद कर दिया जाना चाहिए. साथ ही उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में कुछ ही लोग मास्क लगा रहे हैं और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं. ऐसे में मास्क अनिवार्य करने और कड़े नियम के साथ फाईन की रकम भी बढ़ाये जाने की आवश्यकता है.

इसे भी पढ़ें : CG Government Jobs 2021: महिला एवं बाल विकास विभाग में सुपरवाइजर के लिए निकली बंपर भर्ती

इस पर निजी स्कूल एसोसिएशन ने कड़ी आपत्ति जताई है. एसोसिएशन के अध्यक्ष राजीव गुप्ता ने कहा कि संगठन इस पर कड़ी आपत्ति है. उन्होंने कहा कि शैक्षणिक संस्थान बहुत समय बाद खुले हैं. जब सारी चीजें सरकार ने खोली तो स्कूल खोलने में क्या दिक्कत है. जब सब तरफ नए वैरिएंट को लेकर इतनी दहशत है तो एक जनप्रतिनिधि को ऐसा बयान नहीं देना चाहिए. इससे समाज में भय फैलता है. हमारी मांग है कि सरकार को बहुत सोच विचार के बाद इस पर निर्णय लेना चाहिए.

Read more : Is Crypto Looming? Panic Rises after Govt Lists Bill with Few Exceptions 

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!