रायपुरः नौकरी के नाम पर 2 लाख की ठगी, ‘गब्बर’ के खिलाफ FIR दर्ज…

प्रतीक चौहान. रायपुर. एक ड्राइवर के बेटे को नौकरी दिलाने के नाम पर 2 लाख रुपए की ठगी करने का मामला सामने आया है. ठगी की इस वारदात को अंजाम किसी और ने नहीं बल्कि गब्बर ने दिया है.

वैसे ये शोले फिल्म का गब्बर सिंह तो नहीं बल्कि सिद्धार्थ बंगानी है जो अपने फेसबुक अकाउंट में अपना नाम (गब्बर) रखा हुआ है. पुलिस सूत्रों के मुताबिक आरोपी सिद्धार्थ बंगानी उर्फ गब्बर ने प्रार्थी सालिक राम साहू पिता स्व. कार्तिक राम साहू उम्र 33 वर्ष ग्राम कुर्रा के बेटे को डाटा एंट्री आपरेटर के पद पर कुरूद में नौकरी लगाने के नाम से कुल 2,00,000 रूपया लेकर धोखाधडी की.

Close Button

उक्त आरोपी के खिलाफ थाने में शिकायत करने के बाद भी जब कोई कार्रवाई नहीं हुई तो पीड़ित ने एसएसपी थाने में पूरे मामले की शिकायत की. जिसके बाद जाकर आज आरोपी के खिलाफ थाना गोबरा नवापारा में धारा 420 के तहत अपराध दर्ज किया गया है.

राजनीतिक पहुंच दिखाई, दी धमकी

पुलिस के मुताबिक सालिक राम साहू पिता स्व. कार्तिक राम साहू ग्राम कुर्रा का निवासी पेशे से ड्राईवर (वाहन चालक) है. आरोपी सिद्धार्थ बंगानी पिता रमेश बंगानी वार्ड नं. 14  बंगानी ने डाटा एंट्री आपरेटर कुरूद में नौकरी लगाने की पूर्ण गारंटी देकर 2,00,000 रूपए ले लि और कहा था कि यदि 15 दिन के अंदर ज्वानिंग या ज्वानिंग लेटर प्राप्त नहीं होगा तो पूरा पैसा वापस हो जाएगा. पहली किस्त 1,50,000  27 जून 2019 को ली. इसके बाद प्रार्थी से कहा कि सालिक भाई आपका पूरा पैसा मैं आज साहब के पास जमा कर दिया हूं, फिर 28 जून 2019 को पुनः प्रार्थी से कहा कि एक अधिकारी का ट्रांस्फर हो गया है, जिसके कारण आपको 30,000 रूपए दोबारा देने होंगे. प्रार्थी ने झांसे में आकर पुनः 30 हजार रुपए दिए. इसके बाद भी नौकरी नहीं लगी तो आरोपी सिद्धार्थ बंगानी ने प्रार्थी को कि वह राजनीति में बहुत अच्छी तरह से जुडा हुआ है और उसका व उसके परिवार के बडे पापा, चाचा व पापा मुख्य रूप से इस काम में उसके साझेदार हैं, साथ ही जिस व्यक्ति को नौकरी की आवश्यकता है या किसी पद के लिए योग्यता रखते है पैसा लेकर नौकरी लगवाते है, जिसमें से उन्हें 10 से 30 प्रतिशत दलाली खाते है और दलाली उन लोगों का पेशा है.

इसके बाद भी जब नौकरी नहीं लगी तो गब्बर यानी आरोपी सिद्धार्थ बंगानी ने धमकी देनी शुरू कर दी. जिसमें उठवा दूंगा और मार दूंगा की धमकी वो पीड़ित को देता रहा. इसके बाद पुनः प्रार्थी को झांसे में लिया और 20.000  हजार (बीस हजार रूपए) एक लड़की मीनल शर्मा (राजिम) के पंजाब नेश्नल बैंक खाते में जमा करवाएं.

बीजेपी के कई नेताओं के साथ तस्वीरें

लल्लूराम डॉट कॉम की पड़ताल में सामने आया कि आरोपी सिद्धार्थ उर्फ गब्बर की बीजेपी के कई नेताओं के साथ तस्वीरें है अब एफआईआर दर्ज होने के बाद आरोपी सेटलमेंट करने के प्रयास में है.

 देखें तस्वीरें

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।