नकली सोने का असली खेल: अन्तर्राजीय ठग गिरोह के 3 शातिर गिरफ्तार, मास्टरमाइंड फरार, इतने लाख की हुई थी ठगी

कोरिया।  मनेन्द्रगढ़ थाना अंतर्गत एक युवक को नकली सोना को असली बताकर ठगी कर लिए जाने के मामले का पुलिस ने खुलासा कर दिया है. आरोपियों ने नकली सोने के बदले 5 लाख रुपये ठग लिए थे. मामले में 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, लेकिन मुख्य आरोपी अब भी फरार है.

नकली सोने का असली खेल

मिली जानकारी के अनुसार मनेद्रगढ़ FCI गोदाम के पीछे थाना आकर रिपोर्ट दर्ज कराया. प्रार्थी उत्तम श्रीवास्तव ने बताया कि राहुल नाम का व्यक्ति और उसके अन्य साथी ने मिलकर मटर दाना जैसा झालर को सोना धातु का होना बताया. साथ ही पांच लाख रुपये की ठगी कर लिए हैं.

मास्टरमाइंड फरार

पीड़ित के रिपोर्ट पर आरोपियों के खिलाफ धारा 420, 34 भादवि पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया. सम्पूर्ण तथ्यों से पुलिस अधीक्षक कोरिया चन्द्रमोहन सिंह और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मधुलिका सिंह, अनु. अधिकारी मनेन्द्रगढ मोनिका मरावी के नेतृत्व और दिशा निर्देश पर विवेचना की गई. इस दौरान सेन्ट्रल लॉज मनेन्द्रगढ़ में आरोपियों की रूकने की जानकारी मिली. आरोपियों की पता तलाश और धरपकड़ के लिए पुलिस अधीक्षक द्वारा टीम गठित कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

आरोपियों को भिलाई, नागपुर और महाराष्ट्र से गिरफ्तार किया गया, जिनसे 26000 रुपये बरामद हुआ है. प्रकरण का मुख्य आरोपी राहुल उर्फ पवन राठौर पैसा लेकर फरार है, जिसकी पता तलाश की जा रही है. गिरफ्तार आरोपियों में सेवा राम सोलंकी, फिरोज खान और भीम बघेल का नाम शामिल है. आरोपी राजनांदगांव , रायपुर , भिलाई , बिलासपुर में वारदात को अंजाम दे चुके हैं.

read more- Corona Horror: US Administration rejects India’s plea to export vaccine’s raw material

दुनियाभर की कोरोना अपडेट देखने के लिए करें क्लिक

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।