बहू सिमरन को अपने लिए लकी मानते हैं चन्नी, रिश्ता तय होते ही बने थे मुख्यमंत्री

दूल्हे बने बेटे की गाड़ी को खुद ड्राइव करके ले गए सीएम चन्नी

मोहाली। पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के बेटे नवजीत सिंह का विवाह रविवार 10 अक्टूबर को हुआ. नवजीत सिंह की शादी सिमरन धीर से हुआ, जो एक इंजीनियर हैं. अपने बेटे की शादी में सीएम चन्नी का अंदाज देखने लायक था. चन्नी ने बिल्कुल आम पिता की तरह ही बेटे की शादी में हिस्सा लिया. उन्होंने बेहद सादे तरीके से अपने बेटे नवजीत की शादी की.

 

बहू को लकी मानते हैं सीएम चन्नी

 

वहीं सीएम चन्नी अपनी बहू सिमरन को खुद के लिए बेहद लकी मानते हैं. दरअसल अभी कुछ दिनों पहले तक चरणजीत सिंह चन्नी पंजाब सरकार में मंत्री थी और मुख्यमंत्री बनने का ख्याल भी दूर-दूर तक उनके दिमाग में नहीं थी. लेकिन बेटे नवजीत का रिश्ता सिमरन से तय होते ही किस्मत ने पलटा खाया और कैप्टन अमरिंदर सिंह के सीएम पद से हटते ही चन्नी मुख्यमंत्री बन गए.

बढ़ती दूरियां : सीएम चन्नी के बेटे की शादी में नहीं शामिल हुए सिद्धू, विजय इंद्र सिंगला के साथ पहुंचे वैष्णो देवी

 

यह इसलिए चौंकाने वाला था क्योंकि अमरिंदर के हटने के बाद चन्नी का नाम मुख्यमंत्री पद के लिए चर्चा तक में नहीं था. पंजाब में हर बार सिख ही सीएम बनते रहे हैं, लेकिन अचानक चन्नी ने सीएम बनकर सबको चौंका दिया. चरणजीत सिंह चन्नी पंजाब के पहले अनुसूचित जाति वर्ग से ताल्लुक रखने वाले सीएम हैं.

 

चन्नी ने दूल्हे बने बेटे नवजीत की कार को खुद किया ड्राइव

 

दूल्हे बने बेटे नवजीत की कार को चन्नी खुद ड्राइव करके ले गए. यही नहीं, VIP शानो-शौकत से दूर उन्होंने बेटे-बहू के साथ जमीन पर पंगत में बैठकर खाना खाया. सीएम बनते ही उन्होंने अपनी सिक्योरिटी भी कम करवा दी थी. उन्होंने कहा था कि उन्हें अपने पंजाबी भाईयों से कैसा डर. अपने लोगों के बीच उन्हें इतनी सुरक्षा की जरूरत नहीं है. सीएम की सुरक्षा में 1 हजार जवानों के लगे रहने को उन्होंने फिजूलखर्ची बताया था. अब बेटे के शादी समारोह को भी उन्होंने सादगी से रखा. पंजाब सरकार के मंत्रियों से लेकर कांग्रेसी नेताओं और अफसरों तक ने समारोह में हाजिरी भरी.

No Bail For Aryan Khan Today, Next Hearing On Wednesday

 

भाग्य पर चन्नी को यकीन

सीएम चरणजीत सिंह चन्नी को ज्योतिष और भाग्य पर बहुत भरोसा है. पहले उनकी राजनीति में बड़ा मुकाम हासिल करने के लिए हाथी की सवारी की तस्वीरें सामने आई थीं, इसके बाद चंडीगढ़ में सरकारी निवास का वास्तु ठीक करने के लिए उन्होंने ग्रीन बेल्ट भी तुड़वा दी थी.

 

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।