छत्तीसगढ़: FASTag बैलेंस होने के बावजूद बैरियर में हो रही दोगनी वसूली, केंद्रीय मंत्रालय और मुख्यमंत्री से हुई शिकायत

रायपुर। छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले के कटघोरा-अंबिकापुर नेशनल हाईवे मार्ग पर चोटिया टोल टैक्स बैरियर में अवैध वसूली का मामला सामने आया है. फास्टैग (FASTag) लगे वाहनों से कनेक्शन एरर मिलने के बाद अवैध वसूली की जा रही है. इसकी शिकायत कांग्रेस सहकारिता प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष अजय बंसल ने भारत सड़क मंत्रालय और मुख्यमंत्री से शिकायत की है. उन्होंने मामले में तत्काल कार्रवाई करने की मांग की है.

चोटिया टोल टैक्स में दोगुना वसूली

शिकायत में कहा गया है कि कटघोरा मार्ग के चोटिया टोल टैक्स बेरियर में अक्सर वाईफाई इंटरनेट कनेक्शन खराब रहता है. फास्टैग लगी गाड़ियां जिनके खाते में पर्याप्त बैलेंस रहता है, उनका एरर कनेक्शन के चलते भुगतान नहीं हो पाता है. इसी का फायदा टोल टैक्स कर्मचारी उठा रहे हैं. इसके एवज में दोगना वसूली किया जाता है.

क्या है प्रावधन ?

सहकारिता प्रकोष्ठ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय बंसल ने प्रावधानों का जिक्र करते हुए बताया कि भारत सड़क मंत्रालय के प्रावधान के मुताबिक सभी टोल बैरियर में इंटरनेट कनेक्शन सुचारू रखने की जिम्मेदारी भी संबंधित विभाग और ठेकेदार की होती है. ऐसी स्थिति में यदि कनेक्शन एरर के चलते भुगतान न कटे, तो वाहनों को बैलेंस देखकर बगैर कोई शुल्क पटाए बेरिया अवरोध हटाने का प्रावधान है.

कार्रवाई करने की मांग

वहीं चोटिया टोल बैरियर में FASTag बैलेंस देखने के बावजूद इस प्रावधान के तहत वाहनों को राहत नहीं दी जाती है, बल्कि दोगुना शुल्क वसूला जाता है. प्रावधान बताने पर गुंडागर्दी भी की जाती है. उन्होंने कहा कि इस संबंध में नेशनल हाईवे विभाग को भी अवगत कराया गया, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है. अजय बंसल ने सीएम भूपेश से टोल प्लाजा के अधिकारी और कर्मचारी के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है.

read more- Corona Horror: US Administration rejects India’s plea to export vaccine’s raw material

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।