BREAKING: छत्तीसगढ़ में जारी है रिश्वत का खेल, ACB की टीम ने उप अभियंता को 20 हजार घूस लेते रंगे हाथों किया गिरफ्तार

रायपुर। छत्तीसगढ़ में सरकारी कामकाज के एवज में अधिकारी-कर्मचारियों द्वारा रिश्वत लेने का सिलसिला लगातार जारी है. एसीबी की टीम शिकायत पर कार्रवाई जरूर कर रही है. लेकिन इसके बाद भी अधिकारी बेखौफ घूस ले रहे हैं. ताजा मामला जांजगीर जिले से सामने आया है, जहां बिलासपुर एसीबी की टीम ने जनपद पंचायत अकलतरा में उप अभियंता के पद पर पदस्थ अधिकारी और दलाल को 20 हजार रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है.

मिली जानकारी के मुताबिक अकलतरा निवासी राजेश कुमार कोसले की पत्नी पूर्व पंचायत के कार्यकाल के दौरान मुड़पार गांव की सरंपच थी. इस दौरान पंचायत के तहत होने वाले कार्यों के मूल्यांकन रिपोर्ट बनवाने के लिए जनपद पंचायत अकलतरा के उप अभियंता सुमित राजपूत के पास पहुंचा. तभी पीड़ित का संपर्क दलाल राजकुमार रात्रे से हुआ. इसके बाद अधिकारी सुमित राजपूत ने मूल्यांकन रिपोर्ट बनाने के एवज में 40 हजार रुपए रिश्वत की मांग की थी. तब इस पूरे मामले की सूचना राजेश ने बिलासपुर एसीबी को दी.

एसीबी की टीम ने मामले को गंभीरता लेते हुए पूरा जाल बिछाया और पहली किस्त की राशि 20 हजार रुपए लेते उप अभियंता सुमित राजपूत और दलाल राजकुमार रात्रे को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया. यह कार्रवाई एसीबी के निदेशक एवं पुलिस उप महानिरीक्षक आरिफ शेख और पुलिस अधीक्षक पंकज चंद्रा के दिशा निर्देश पर हुई है. गिरफ्तार आरोपी उप अभियंता सुमित राजपूत बलौदाबाजार जिले के कोदवा गांव और दलाल राजकुमार रात्रे बिलासपुर जिले के पेंड्री गांव के निवासी है.

loading...

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।