BREAKING: राजधानी में पीलिया का कहर, 8 बच्चे बीमार, दो की हालत नाजुक, नलों से आ रहा गंदा पानी

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में पीलिया ने कहर बरपाना शुरू कर दिया है. दूषित पानी की सप्लाई और पानी पीने की वजह से 8 बच्चे पीलिया की चपेट में आ गए है, जबकि दो ही हालत गंभीर बनी हुई है. पीलिया की शिकायत के बाद निगम अमला रायपुर के कुशालपुर पहुंच गया है जहां के लोग पीलिया से ग्रसित हो गए है. बताया जा रहा है कि पिछले 8 जून से लगातार कुशालपुर के वार्डों में दूषित पानी आ रहा है. इसकी शिकायत निगम को की गई लेकिन किसी ने इसकी सुध नहीं ली.

महापौर प्रमोद दुबे का कहना है कि पीलिया की चपेट में आए लोगों का इलाज कराया जा रहा है. दूषित पानी पीने से बीमारी की वजह बता रहे है तो पानी की टेस्टिंग के लिए भेजा गया है. पीलिया फैलने के कई कारण हो सकते हैं. अभी जांच के पहले कुछ भी कहना सही नहीं होगा. किस वजह से हुआ है इसका पता जांच के बाद चल जाएगा.

उन्होंने कहा कि कुशालपुर में नई पाइप लाइन डाला गया है. लोगों को नई कनेक्शन के लिए आवेदन मांगा गया था. कुछ लोगों ने दिया था जबकि कुछ लोगों ने नहीं दिया था. सूचना मिलने के बाद तत्काल पानी टेस्टिग टीम बना दिया गया है. मामले को गंभीरता से लेकर कार्रवाई की जाएगी.

वहीं कुशालपुर के लोगों के कहना है कि पिछले कई दिनों से दूषित पानी वार्डों में आ रहा है. जिस वजह से पीलिया हुई है. इसकी शिकायत की गई लेकिन कोई गंभीरता से नहीं लिया. पाइप लाइन भी नहीं बदली गई है जिसकी वजह से नलों से भी गंदा पानी आ रहा है. अब इसकी खामियाना हमें भुगतना पड़ रहा है.

बता दें कि इससे पहले छत्तीसगढ़ के रायपुर, भिलाई, दुर्ग, बिलासपुर समेत कई जिलों में पीलिया के चपेट में आने कई लोगों की मौत हो चुकी है. इसके बावजूद निगम कर्मचारी इसे गंभीरता से नहीं ले रहे है. नगर निगम पर भी सवाल उठ रहा है कि वो इतना दूषित पानी क्यों दे रहा है.  हर साल पीलिया के चपेट में आने से लोगों की मौत हो रही है.

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।