105 दिन बाद जंगल सफारी और नंदनवन में लौटी रौनक, पर्यटकों के लिए होगा ये गाइडलाइन

पर्यटक स्थल आज से खोल दिए गए हैं।

शिवम मिश्रा,रायपुर। कोरोना महामारी के बीच अनलॉक-2 में जिंदगी की गाड़ी पटरी पर वापस लौटने लगी है. सरकार ने कुछ और चीजों में छूट दी है. 1 जुलाई से नया रायपुर में जंगल सफारी और नंदनवन को खोल दिया गया है. करीब 105 दिन बाद पर्यटक स्थलों को खोलने की अनुमित राज्य सरकार ने दी है. यहां कोरोना संक्रमण को देखते गाइडलाइन भी जारी की गई है. जिसके तहत जंगल सफारी में आने वाले पर्यटकों को गाइडलाइन का पालन करना अनिवार्य होगा.

Close Button

सफारी प्रबंधन के मुताबिक राज्य सरकार ने आज से जंगल सफारी को खोलने के निर्देश दिए है. कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए गाइडलाइंस जारी किए गए है. सफारी के अंदर 3 लेयर में व्यवस्था की गई है. कोरोना संक्रमण को देखते हुए सफारी में 65 वर्ष से जायदा के बुजुर्ग, गर्भवती महिलाएं और 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को प्रवेश नहीं दिया जाएगा. सफारी आने वाले पर्यटकों का नाम, पता, नंबर और शरीर के तापमान को रजिस्टर में मेंटेन किया जाएगा. साथ ही प्रवेश से पहले उनकी थर्मल स्क्रीनिंग, फेस मास्क और सेनिटाइज करना अनिवार्य होगा.

इसके साथ ही भीड़ नियंत्रित रहे इसको ध्यान में रखते हुए पर्यटकों को वेटिंग हॉल में बैठाया जाएगा. वहां भी सोशल डिस्टेनसिंग का पालन करना होगा. सफारी घुमाने वाली बसों की क्षमता को आधी कर दी गई है. 20 सीटर बस में केवल 10 पर्यटकों को बैठाया जाएगा. प्रत्येक ट्रिप में बसों को पूरा सेनिटाइज किया जाएगा. हर आधे घँटे में वेटिंग हॉल को सेनिटाइज किया जाएगा. सफारी में पर्यटकों को थुकने की मनाही है, सभी नियमों का कड़ाई से पालन कराया जाएगा, पालन नही करने वालो पर नियमित कार्रवाई की जाएगी.

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।