डीएड-बीएड संघ ने शिक्षक भर्ती की उठाई मांग, शिक्षा मंत्री ने कहा- कोरोना संकट टलते ही प्रक्रिया में आएगी तेजी

सत्यपाल सिंह,रायपुर। छत्तीसगढ़ में 14 हजार 580 पदों पर शिक्षक भर्ती की प्रक्रिया अधर में लटकी हुई है. छत्तीसगढ़ प्रशिक्षित डीएड एवं बीएड संघ ने भर्ती प्रक्रिया में तेज़ी लाने की मांग की है. जिस पर स्कूल शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम ने कहा कि कोरोना की वजह से देरी हो रही है. संकट टलते ही प्रक्रिया में तेजी लाई जाएगी.

चयनित अभ्यार्थियों ने बताया कि वर्तमान में हो रही नियमित शिक्षक भर्ती 2019 का विज्ञापन विगत वर्ष 9 मार्च 2019 को जारी हुआ था. जिसमें व्याख्याता शिक्षा सहायक शिक्षक व्यापम शिक्षा और सहायक शिक्षक प्रयोगशाला के कुल 14 हजार 580 पदों पर भर्ती होनी है, लेकिन एक वर्ष बीत जाने के बाद सिर्फ़ आयोजित परीक्षा के परिणाम जारी किए गए हैं. पिछले 5-6 माह से सिर्फ़ दस्तावेज़ सत्यापन का कार्य कछुआ चाल से जारी है.

उन्होंने कहा कि परीक्षा पास कर दस्तावेज़ सत्यापन के बाद भी नौकरी नहीं मिलने से हज़ारों युवा मानसिक रूप से प्रताड़ित महसूस कर रहे हैं. इस संबंध में शिक्षा संचालक से लेकर शिक्षा सचिव को कई बार ज्ञापन दिया जा चुका है, फिर भी भर्ती प्रक्रिया बहुत धीमी गति से जा रही है.

इस मामले में स्कूल शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम ने कहा कि कोरोना काल की वजह से भर्ती प्रक्रिया में देरी हो रही है. जैसे ही संकट का समय टलता है, भर्ती प्रक्रिया में तेज़ी लाई जाएगी. अभ्यार्थी चिंतित न हों, शिक्षकों की कमी है. इसीलिए भर्ती निकाली गई है. बहुत ही जल्द इस पर कार्रवाई की जाएगी.

loading...

Related Articles

loading...
Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।