छत्तीसगढ़ का राजपरिवार भी उतरा भंसाली की ‘पद्मावती’ के विरोध में

रायपुर। संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती पर संकट गहराता ही जा रहा है. देश भर में राजपूत समाज के साथ ही कई संगठन और राजस्थान के सभी पूर्व राजघराने फिल्म का विरोध कर रहे हैं. इसी कड़ी में एक और नाम जुड़ गया है, छत्तीसगढ़ के जशपुर का राजपरिवार.

जूदेव परिवार के विक्रमादित्य सिंह जूदेव ने इस फिल्म को लेकर कड़ी प्रतिक्रिया दी है, उन्होंने कहा है कि फिल्म में भंसाली ने राजपूतों की गौरव रानी पद्मावती की छवि को धूमिल किया है. उन्होंने राजपूतों के इतिहास से छेड़छाड़ करने का अक्षम्य अपराध किया है.

फिल्म में पद्मावती को नाचते दिखाया गया है. जो कि न सिर्फ रानी का अपमान है बल्कि देश के सभी क्षत्रिय राजपूतों का अपमान है. जूदेव ने फिल्म के प्रदर्शन पर रोक लगाने की मांग की है. उन्होंने बताया फिल्म के विरोध में 18 नवंबर को अखिल भारतीय समाज मुख्यमंत्री निवास और राजभवन तक पैदल मार्च करेगा और फिल्म के विरोध में ज्ञापन सौंपेगा.

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।