छग : दिवंगत शिक्षाकर्मियों के परिजनों के अनुकंपा नियुक्ति का रास्ता साफ, सभी DEO से चार बिंदुओं में मांगी जानकारी …

रायपुर. अनुकंपा नियुक्ति को लेकर लंबे समय से दिवंगत शिक्षाकर्मियों के परिजन प्रदर्शन कर रहे थे. जिन्हें अब राहत मिल गई है. सीएम के निर्देश के बाद अब इस पर अमल शूरू हो गया है. दिवंगत शिक्षाकर्मियों के परिजनों को अनुकंपा नियुक्ति का रास्ता अब साफ हो गया है. सभी जिला शिक्षाधिकारियों से अनुकंपा नियुक्ति के लिए चार बिंदुओं में जानकारी मांगी गई है.

बता दें कि दिवंगत शिक्षाकर्मियों के परिजनों को अनुकंपा नियुक्ति देने की प्रक्रिया शुरू हो गई है. इसके लिए सभी जिला शिक्षा  अधिकारीयों को पत्र जारी किया गया है. जिला शिक्षाधिकारियों से 4 अलग-अलग बिंदुओं में जानकारी मांगा गया है. वहीं, जिलेवार शिक्षाकर्मियों के भरे व रिक्त कितने पद स्वीकृत हैं इसकी भी की जानकारी मांगी गई.

इसे भी पढ़ें – IPL : कमाई के मामले में ये क्रिकेटर्स हैं सबसे आगे, 2008 से अब तक इतनी की है कमाई, जानिए कितनी है सैलरी …

कितने दिवंगत शिक्षाकर्मियों के परिजनों को अनुकंपा नियुक्ति देने के लिए पात्र पाया गया है. कितने शिक्षाकर्मियों का संविलियन होना अभी बाकी है. जिलेवार अनुकंपा नियुक्ति के लिए शिक्षाकर्मियों के कितने पद भरे और रिक्त स्वीकृत हैं. इन सभी मुद्दों पर जानकारी मांगी गई है. जिसके लिए लोक शिक्षण संचालनालय से सभी जिला अधिकारियों को पत्र भी जारी हुआ.

इसे भी पढ़ें – Bigg Boss 15 : पहले हफ्ते घर से बेघर होने के लिए नॉमिनेट हुए 6 कंटेस्टेंट्स, परवान चढ़ रहा माइशा और ईशान का प्यार …

बता दें कि लल्लूराम डॉट कॉम ने इस मुद्दे को प्रमुखता से उठाया था. जिसके बाद मुख्यमंत्री ने इस पर संज्ञान लेते हुए तीन सदस्यीय कमेटी गठित किया था. जिनको एक माह के अंदर सेवा शर्तें नियम क़ानून बनाकर पेश करना था. जिसे जल्द ही CM हाउस में पेश किया जाएगा. वहीं, इसके लिए प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. इसी कड़ी में लोक शिक्षण संचालनालय से सभी जिला अधिकारियों को पत्र जारी हुआ है.

देखिए पत्र

गौरतलब है कि दिवंगत पंचायत शिक्षक के विधवा महिलाओं ने राजधानी रायपुर के बुढ़ा तालाब धरना स्थल पर 57 दिनों तक अनिश्चितकालीन धरना और क्रमिक भूख हड़ताल किया था. जिसके बाद एक कमेटी का गठन किया गया था.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!