राहुल गांधी की छत्तीसगढ़ के किसान से हुई चर्चा पर सवाल उठाने वालों को भूपेश बघेल का करारा जवाब, कहा- तारीफ यहां भी की जा सकती है वहां भी, लेकिन…

रायपुर। वैष्णो देवी की यात्रा के दौरान राहुल गांधी के छत्तीसगढ़ के किसान से मुलाकात पर सवाल उठाने वालों को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने करारा जवाब दिया है. उन्होंने कहा कि तारीफ यहां भी की जा सकती है. वहां भी. लेकिन लोगों के चेहरे और हवाइयां उड़ने लगी है, ये तकलीफदायक है. उन्होंने कहा कि 27 अगस्त को राहुल गांधी को भी नहीं पता था कि उनको वैष्णो देवी जाना है.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राहुल गांधी के वैष्णोदेवी की यात्रा पर छत्तीसगढ़ के किसान भागवत वर्मा से मुलाकात पर भाजपा के सवाल उठाने पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा कि भाजपा के सीने में सांप के क्यों लोट रहा है. 15 साल रमन सिंह को अवसर मिला, लेकिन कुछ नहीं किया. किसी को लाभ मिला है तो परेशानी क्यों हो रही है. उसे लाभ मिला है, वह यहां भी बता सकता है, और वहां भी बता सकता है. लाभ केवल भागवत वर्मा को मिला है, ऐसा नहीं है. यहां ऐसे ऐसे गोपालक हैं जिन्हें 3 से 4 लाख रुपए मिला है.

भाजपा को क्यों यह संयोग लग रहा

मुख्यंत्री ने सवाल किया कि भाजपा को क्यों लगता है कि यह संयोग है? जब उसने रजिस्ट्रेशन (रिजर्वेशन) कराया तब उससे पता था कि राहुल गांधी जब 10 तारीख को जाने वाले हैं? उसको कैसे पता? राहुल को भी उस समय पता नहीं था कि वह कार्यक्रम में वैष्णो देवी जाएंगे. 27 तारीख को सभी विधायक दिल्ली में थे. उस समय किसी को पता नहीं था कि कार्यक्रम क्या बनने वाला है. भागवत वर्मा ने सही बात कही. तारीफ यहां की तो तारीफ वहां भी की जा सकती है. लेकिन लोगों के चेहरे पर हवाइयां उड़ने लगी है, यह तकलीफदायक है.

सबसे ज्यादा चर्च भाजपा काल में बने

धर्मान्तरण पर भूपेश बघेल ने कहा कि भाजपा के पास अब मुद्दा नहीं रहा. गाय, किसान, आदिवासी मुद्दा नहीं तो धर्मांतरण की बात कह रहे हैं. सबसे ज्यादा चर्च भाजपा के शासनकाल में बने. जबरिया धर्मांतरण की कोई भी शिकायत आएगी तो कार्रवाई की जाएगी. वहीं एड्समेटा एनकाउंटर पर उन्होंने कहा कि रिपोर्ट आ चुकी है, जब तक विधानसभा में रखने से पहले सार्वजनिक नहीं करेंगे.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।