दिल्ली की स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी से अंतरराष्ट्रीय स्तर के निकलेंगे खिलाड़ी: CM अरविंद केजरीवाल

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कांस्य पदक जीतने के लिए बजरंग पुनिया को बधाई दी

नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने वाले खिलाड़ी बजरंग पुनिया ने अपने कोच सतपाल सिंह के साथ मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से उनके आवास पर मुलाकात की. इस दौरान मुख्यमंत्री ने कांस्य पदक जीतने के लिए उन्हें बधाई दी और भविष्य में देश के लिए ढेर सारे मेडल लाने की शुभकामनाएं दीं. सीएम ने कहा कि बजरंग पुनिया ने भारत को और हम सभी को गौरवान्वित किया है. वे लाखों युवाओं के प्रेरणास्रोत हैं. उनका प्रदर्शन देश के खिलाड़ियों को प्रेरणा देगा और अधिक से अधिक मेडल लाने के लिए उन्हें प्रेरित करेगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने खेलों को बढ़ावा देने के लिए स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी की स्थापना की है, ताकि हमारे देश में अंतरराष्ट्रीय स्तर के ढेर सारे खिलाड़ी पैदा किए जा सकें.
बजरंग पुनिया ने अपने अनुभव किए साझा
दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में कई साल से ट्रेनिंग कर रहे और दिल्ली के लिए खेलने वाले बजरंग पुनिया को सीएम अरविंद केजरीवाल ने टोक्यो ओलंपिक में ऐतिहासिक प्रदर्शन कर कांस्य पदक जीतने के लिए बधाई दी और आने वाले समय में भारत के लिए ढेर सारे मेडल लाने के लिए शुभकामनाएं दीं. इस दौरान बजरंग पुनिया ने टोक्यो ओलंपिक की अपनी यात्रा के बारे में बताया और अपने अनुभवों को साझा किया.
बजरंग पुनिया की उपलब्धि पर देश को गर्व- केजरीवाल
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि बजरंग पुनिया ने जो उपलब्धि हासिल की है, उस पर पूरे देश को गर्व है. उन्होंने अपने शानदार प्रदर्शन से भारत का नाम बुलंदियों पर पहुंचाया है. उनका यह प्रदर्शन देश के भविष्य के खिलाड़ियों के लिए एक उदाहरण के रूप में प्रेरणा देने का काम करेगा और उन्हें भी अधिक से अधिक मेडल जीतकर लाने के लिए प्रेरित करेगा. सीएम ने कहा कि दिल्ली सरकार खेलों को बढ़ावा देने के लिए पूरी तरह से गंभीर है और खिलाड़ियों को मदद देने के लिए हमेशा तत्पर रही है. खेलों को बढ़ावा देने के लिए हमारी सरकार ने स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी की स्थापना की है. यूनिवर्सिटी के माध्यम से हम ढेर सारे अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी पैदा करना चाहते हैं, जो पूरी दुनिया में अपने खेल के जरिए अधिक से अधिक मेडल जीतकर भारत को गौरवान्वित कर सकें.
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, ‘‘आज मेरे आवास पर ओलंपिक कांस्य पदक विजेता बजरंग पुनिया से मिलकर खुशी हुई. बजरंग ने भारत को गौरवान्वित किया है और हम सभी को गौरवान्वित किया है. आप लाखों युवाओं के प्रेरणास्रोत हैं.’’
टोक्यो ओलंपिक में कास्य विजेता बजरंग पुनिया ने कहा कि सीएम अरविंद केजरीवाल जी से मुलाकात कर बहुत अच्छा लगा. मुख्यमंत्री ने मेरी ट्रेनिंग के बारे में पूछा कि कहां पर ट्रेनिंग चल रही है और आगे की योजनाओं के बारे में चर्चा की. मैंने छत्रसाल स्टेडियम में कई साल तक ट्रेनिंग की है. दिल्ली सरकार ने स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी की स्थापना की है, जहां पर इंटरनेशनल लेवल के खिलाड़ियों को तैयार करने की योजना है. सीएम ने आश्वासन दिया है कि उनकी सरकार हमेशा खिलाड़ियों के साथ रही है और आगे भी रहेगी. मुख्यमंत्री ने देश के लिए खेलने और ढेर सारे मेडल लाने के लिए प्रोत्साहित किया.
बजरंग पुनिया के कोच सतपाल सिंह ने कहा कि बजरंग पुनिया अब 2024 का लक्ष्य लेकर अपनी तैयारियां कर रहे हैं. युवा ही हमारे देश की संपत्ति हैं. जब बररंग पुनिया जैसे बच्चे आगे आएंगे, तभी दूसरे युवाओं को प्रोत्साहन मिलेगा. बजरंग पुनिया दिल्ली से ही रष्ट्रीय स्तर पर खेलते रहे हैं, इसलिए वे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से उनका आर्शीवाद लेने आए थे.

सिल्वर मेडल विजेता रवि दहिया ने भी सीएम से की थी मुलाकात

बता दें कि कुछ दिन पहले टोक्यो ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीतने वाले खिलाड़ी रवि दहिया भी सीएम अरविंद केजरीवाल से मुलाकात कर चुके हैं. मुख्यमंत्री ने रवि दहिया को उनकी ऐतिहासिक उपलब्धि पर बधाई और भविष्य की शुभकामनाएं दी थीं. साथ ही दिल्ली सरकार ने आदर्श नगर स्थित राजकीय बाल विद्यालय का नाम बदल कर रवि दहिया बाल विद्यालय कर दिया है. रवि दहिया ने अपनी स्कूली शिक्षा दिल्ली सरकार के इसी स्कूल से पूरी की है. जब दिल्ली में कोरोना के समय लॉकडाउन लगा था, उस समय रवि दहिया की ट्रेनिंग चल रही थी. इस दौरान सरकार ने उन्हें प्रोत्साहित किया और उनकी ट्रेनिंग रुकने नहीं दी. दिल्ली सरकार ने मिशन एक्सीलेंस के तहत रवि दहिया को ट्रेनिंग, कोच और अन्य स्पोर्ट्स उपकरण की सहायता दी.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।