Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

रायपुर- एक इंटरव्यू के दौरान मुख्यमंत्री डाॅ.रमन सिंह से जब यह पूछा गया कि चौथी बार सरकार बनने पर मुख्यमंत्री बनना पसंद करेंगे या फिर केंद्र की राजनीति में जाएंगे, तो  इस सवाल के जवाब में उन्होंने दो टूक कहा कि- यदि मुझसे प्राथमिकता पूछी जाएगी, तो मैं यही कहूंगा कि छत्तीसगढ़ की ढाई करोड़ जनता के लिए काम करने की मेरी इच्छा पहले भी थी और अब भी हैं. विकास की जो कल्पना मैंने देखी हैं, उसे आगे बढ़ाना मेरी प्राथमिकता होगी.

दरअसल समय-समय पर सियासी गलियारों में इस बात को लेकर जमकर चर्चा होती रही है कि डाॅ.रमन सिंह केंद्र की राजनीति में जा सकते हैं. रमन सिंह छत्तीसगढ़ में बीजेपी का सबसे बड़ा चेहरा माने जाते हैं, लिहाजा बीजेपी सरकार बनने की संभावनाओं के बीच बार-बार पूछा जाता है कि केंद्रीय राजनीति के लिए आलाकमान से कोई इशारा तो नहीं है.

एक निजी राष्ट्रीय न्यूज चैनल के इंटरव्यू के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि- मैं पार्टी का कार्यकर्ता हूं. मैंने पद के लिए कभी काम नहीं किया. मुझे जब भी जो भी जिम्मेदारी सौंपी गई, उसका निर्वहन करता आया. आज मुख्यमंत्री हूं, कल संगठन कोई और जिम्मेदारी देगा, तो भी इसी शिद्दत से काम करता रहूंगा. लेकिन जब मेरी प्राथमिकता मुझे पूछी जाएगी, तो मैं छत्तीसगढ़ के लिए ही लगातार काम करते रहना चाहता हूं.

जोगी के चुनाव लड़ने से हम उम्मीद करते हैं बीजेपी को होगा फायदा- रमन

इधर मुख्यमंत्री डाॅ.रमन सिंह ने अपने इंटरव्यू में कहा कि छत्तीसगढ़ में अब तक बीजेपी और कांग्रेस लगातार चुनाव लड़ते रहे हैं, लेकिन अब तीसरी शक्ति आ गई है. अजीत जोगी ने अपनी नई पार्टी बना ली है. काफी मेहनत कर रहे हैं. वह चुनाव लड़ने के लिए काफी तैयारी कर रहे हैं. वह जनाधार वाले नेता हैं. इस बात को नकारा नहीं जा सकता. डाॅ.रमन सिंह ने कहा कि तीसरी शक्ति के तौर पर नई पार्टी के खड़ी होने से प्रदेश में त्रिकोणीय संघर्ष की स्थिति बन सकती है. हम उम्मीद करते हैं कि उसका फायदा बीजेपी को मिलेगा.

सिर्फ विकास के मुद्दे पर लड़ेंगे चुनाव

डाॅ.रमन सिंह ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव के लिए हम पूरी तरह से तैयार हैं. इस बार कोई ब्रम्हास्त्र नहीं होगा, बल्कि चुनाव हम सिर्फ विकास, विकास और विकास के मुद्दे पर ही लड़ेंगे. चौथा कोई मुद्दा नहीं होगा. विकास के सहारे ही हम जनता के बीच जाएंगे. जनता का आशीर्वाद बीजेपी को ही मिलेगा.

जैसा छत्तीसगढ़-वैसा रमन

मुख्यमंत्री ने इंटरव्यू के दौरान हुए एक सवाल के जवाब में कहा कि- मैं किसी से दुश्मनी नहीं रखता. राजनीतिक विषयों को लेकर सभी अपनी-अपनी बातें रखते हैं. लेकिन राजनीति से परे जब बात हो, तो व्यवहार में फर्क नहीं आना चाहिए. मैं किसी को भी दुश्मन मानकर नहीं चलता. मैंने राजनीति में हमेशा सबको साथ लेकर चला है. विपक्ष की अपनी भूमिका होती हैं, पक्ष की अपनी भूमिका. कभी एक बैटिंग करता हैं, तो दूसरा बाॅलिंग. फिलहाल बैटिंग करने की हमारी पारी है.  उन्होंने कहा कि मेरा स्वभाव मूल रूप से छत्तीसगढ़ियां हैं. किसी भी बडे़ नेता से मैं अपनी तुलना नहीं कर सकता. जैसा छत्तीसगढ़ हैं, वैसा ही रमन हैं. अजीत जोगी प्रदेश के पहले मुख्यमंत्री थे, लेकिन इससे पहले वह ब्यूरोक्रेट थे, इसलिए उनका स्वाभाव अलग था.

डाॅ.रमन सिंह ने कहा कि- आज बस्तर की जनता यह मानती हैं कि नक्सलवाद का खात्मा विकास से संभव होगा. आज नक्सली सिमट रहे हैं. समस्या धीरे-धीरे खत्म हो रही है. बस्तर का बड़ा हिस्सा विकास के बल पर ही खाली कराया गया है. मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि बस्तर में शांति लाने में हम सब कामयाब होंगे.