CG NEWS: बारिश में बाढ़ प्रभावितों से मिलने निकले कलेक्टर और SP, रास्ते में फंसे, चप्पू चलाकर पहुंचे लोगों के बीच, जरूरत की चीजों का किया इंतजाम, लोगों ने मांगा झंडा, देखें VIDEO…

रोहित कश्यप, मुंगेली. कलेक्टर राहुल देव और पुलिस अधीक्षक चंद्रमोहन सिंह ने आज बरसते पानी के बीच मोटर बोट के जरिए नाला पार कर नगर पंचायत सरगांव के वार्ड क्रमांक 1 पहुंचे. हालांकि बीच रास्ते मोटर बोट खराब होने के कारण लोगों के बीच पहुंचने के लिए कलेक्टर और एसपी को चप्पू चलाना पड़ा, जिसके बाद वे लोगों के पास पहुंचे.

बता दें कि, लगभग 4 दिनों से लगातार बारिश के चलते टेसुआ नाला में उफान के कारण नगर पंचायत सरगांव का वार्ड क्रमांक 1 टापू में तब्दील हो गया है. जिसके कारण सड़क मार्ग बंद हो गया है और वहां रहने वाले 100 परिवार बाढ़ से प्रभावित हो गए हैं. जिसके बाद जिला प्रशासन ने एसडीआरएफ की टीम को वहां तैनात कर दिया है. कलेक्टर ने बाढ़ प्रभावित लोगों से चर्चा कर हालचाल जाना और उन्हें हर संभव मदद का भरोसा दिलाया.

उन्होंने लोगों से राशन, पेयजल, मौसमी बीमारी से संबंधित दवाई और स्वास्थ्य सुविधा आदि की भी जानकारी ली. इस दौरान उन्होंने राशन और आवश्यक दवाई का भी वितरण किया. लोगों के द्वारा स्वास्थ्य सुविधा और स्कूली बच्चों की शिक्षा की व्यवस्था करने की मांग पर संबंधित अधिकारी को वहां शिक्षक और चिकित्सक की व्यवस्था तत्काल सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए. वहीं इसके बाद कलेक्टर ने सरगांव के संत शिरोमणि रविदास शासकीय महाविद्यालय में अस्थायी रूप से रह रहे ग्राम सल्फा के बाढ़ प्रभावित लोगों से भी मुलाकात की और समय पर भोजन, पेयजल, मुआवजा राशि के संबंध में जानकारी ली.

दरअसल, सल्फा गांव भी बाढ़ से टापू में तब्दील है. जहां के सैकड़ों लोगों को यहां ठहराया गया है. उनके रहने, खाने सहित मेडिकल शिक्षा की व्यवस्था प्रशासन की ओर से कर दी गई है. कलेक्टर ने कहा कि, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के स्पष्ट निर्देश हैं कि, बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में किसी भी प्रकार की जनहानि नहीं होनी चाहिए. उनके दिशा-निर्देश के अनुरूप जिला प्रशासन द्वारा बाढ़ प्रभावितों को हर संभव मदद उपलब्ध कराई जा रही है. बाढ़ प्रभावित लोगों को किसी तरह की समस्या नहीं होगी इसको लेकर उन्होंने आश्वस्त किया.

ये अफसर थे रेस्क्यू नाव में सवार

रेस्क्यू टीम के साथ कलेक्टर ,एसपी जिस बोट में सवार होकर बाढ़ प्रभावित लोगों तक पहुंचे उसमें जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डी. एस. राजपूत, एसडीएम मुंगेली अमित कुमार, एसडीएम पथरिया प्रिया गोयल भी मौजूद थे.

कलेक्टर-एसपी ने चप्पू चलाकर बोट को लगाया किनारे

सीएम भूपेश बघेल के निर्देश पर दुर्ग एसडीआरएफ की एक टुकड़ी टीम स्पेशल तौर पर मुंगेली जिले में बाढ़ प्रभावितो के रेस्क्यू के लिए मौजूद हैं. कलेक्टर एसपी समेत प्रशासनिक अमला बोट में सवार होकर टेसुआ नाला के तेज बहाव को पार करते हुए बाढ़ प्रभावितों से मिलने और उन्हें राहत पैकेज मुहैय्या कराने के लिए निकले थे. तभी बीच मझधार में किसी कारण वश मोटर बोट बंद हो गई, जिसके बाद कलेक्टर एसपी ने चप्पू अपने हाथों में लेकर एक पतवार के भांति बोट को किनारा लगाया.

बाढ़ प्रभावितों ने एसपी से मांगा तिरंगा

मुंगेली जिले के सरगांव का खपरी वार्ड भले ही टापू में तब्दील हो गया है. यहां के वार्डवासी बुरी तरह से बाढ़ के चपेट में हैं, लेकिन बाढ़ संकट के बीच एक ऐसी खबर भी सामने आई, जिससे आप भी देशभक्ति की डुबकी में गोता लगाने से नहीं चूकेंगे. दरअसल बाढ़ पीड़ितों को राहत सामग्री वितरण करने और उनका हालचाल जानने कलेक्टर राहुल देव और एसपी चन्द्रमोहन सिंह खपरी पहुंचे थे. इस दौरान वार्डवासियों ने राहत सामग्री के अलावा एसपी चन्द्र मोहन सिंह के समक्ष 15 अगस्त के राष्ट्रीय उत्सव पर वार्ड में झंडा फहराने की इच्छा जाहिर की. इस मांग को सुनकर पुलिस कप्तान का भी सीना चौड़ा हो गया. उन्होंने वार्डवासियों को आश्वासन दिया कि वे यहां हरहाल में तिरंगा झंडा सम्मान पहुचाएंगे और वार्ड में तिरंगा भी फहरेगा. जिसके बाद लोगों की मांग को ध्यान में रखते हुए लोगों तक झंड़ा पहुंचाया गया.

देखें वीडियो-

छतीसगढ़ की खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक 
मध्यप्रदेश की खबरें पढ़ने यहां क्लिक करें
उत्तर प्रदेश की खबरें पढ़ने यहां क्लिक करें
दिल्ली की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
पंजाब की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
लल्लूराम डॉट कॉम की खबरें English में पढ़ने यहां क्लिक करें
खेल की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
मनोरंजन की खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक

Related Articles

Back to top button