Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

कर्ण मिश्रा,ग्वालियर। छात्रों के प्रदर्शन पर कलेक्टर की पाठशाला। कलेक्टर ने पढ़ाया लॉ स्टूडेंट को कानून का पाठ। एनएसयूआई जिलाध्यक्ष ने कहा कुछ ऐसा कि कलेक्टर को गुस्सा आ गया। उन्हें हिरासत में लेने के दिए आदेश।

जानकारी के अनुसार आज जीवाजी यूनिवर्सिटी में यूजी और पीजी की परीक्षाएं आगे बढाने की मांग एनएसयूआई कर रही थी। इसी मांग को लेकर छात्र-छात्राएं यूनिवर्सिटी के गेट के सामने हंगामा कर रहे थे। हंगामे की खबर पर कलेक्टर पहुंचे और एनएसयूआई नेताओं और छात्रों की क्लास ली। उन्होंने बाहर के छात्र को जेल भेजने के दिये निर्देश। छात्राओं ने लगाए गार्ड पर छेड़छाड़ के गंभीर आरोप। दोनों मामलों की जानकारी मिलते ही कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह यूनिवर्सिटी पहुंचे।

प्रदर्शनकारी छात्र नेताओं की उन्होंने क्लास ली। प्रदर्शनकारी छात्रों से कहा एमएससी करने के बाद कांस्टेबल बनोगे, बनना साइंटिस्ट चाहिए। बाहरी छात्र होने पर जिलाध्यक्ष को गिरफ्तार किये जाने के भी दिए निर्देश। प्रदर्शनकारी छात्रों परजमकर झल्लाये कलेक्टर। उनके के आदेश पर विश्वविद्यालय थाना पुलिस ने एनएसयूआई जिलाध्यक्ष शिवराज यादव को लिया हिरासत में। थोड़ी देर बाद रिहा भी कर दिया।

Read More : नाबालिग बेटी की SP से गुहारः बोली- मां और सौतेले पिता मुझे बेचना चाहते हैं, थाने में दर्ज कराई शिकायत 

प्रदर्शन कर रहे छात्र-छात्राओं की मांग थी कि आनन-फानन में आयोजित की गई परीक्षाओं को 15 दिन के लिए टाल दिया जाए। कलेक्टर ने छात्र छात्राओं से कहा – आपने पढ़ाई नहीं की इसलिए आप यहां आकर हंगामा कर रहे हो, नेतागिरी कर रहे हो। काफी देर तक चलता रहा हंगामा। बाद में कलेक्टर को समझ आया तो कुलपति को परीक्षा की डेट बढ़ाने का आदेश देकर मौके से चले गए।

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

">
Share: