अजीत जोगी के निधन पर केंद्रीय मंत्री से लेकर मित्र कर रहे शोक व्यक्त…

नई दिल्ली। छत्तीसगढ़ के पहले मुख्यमंत्री अजीत जोगी के निधन की खबर आम होते ही राजनेताओं, अधिवक्ताओं, पत्रकारों के अलावा अन्य क्षेत्रों में सक्रिय लोगों की प्रतिक्रिया सामने आने लगी है.

Close Button

छत्तीसगढ़ विधानसभा के वरिष्ठ विधायक रामपुकार सिंह ने अजीत जोगी के निधन पर गहरा दुख जताया है. उन्होंने कहा कि योग्य और संघर्ष करने वाले नेता आज हमारे बीच नहीं रहे. उन्होंने उस दिन को भी याद किया जब अजीत जोगी के सरकार में खनिज और जनसंपर्क मंत्री के रूप में उनके साथ काम करने का मौका मिला था. उन्होंने कहा कि अजीत जोगी में कार्य करने का भरपूर क्षमता थी. पहली बार मुख्यमंत्री बनने के बाद कांग्रेस की सरकार में प्रदेश में चौतरफा विकास हुआ.

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने अजीत जोगी के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए परिवार के सदस्यों को इस दुख की घड़ी से उबरने के लिए संबल प्रदान करने की कामना की.

कांग्रेस प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि खराब तबीयत के बाद भी अपने हौसले को बरकरार रखा. पूरे परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं.

गुजरात के कांग्रेस नेता अर्जुन मोडवाडिया ने लिखा कि छत्तीसगढ़ के पहले मुख्यमंत्री अजीत जोगी के निधन की दुखद खबर मिली है. जोगी परिवार और छत्तीसगढ़ के लोगों के प्रति मेरी संवेदनाएं.

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी ट्विट कर पूर्व मुख्यमंत्री अजित जोगी के निधन पर शोक जताया है. उन्होंने ट्विट कर लिखा है कि – छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री श्री अजीत जोगी जी के निधन से दुःखी हूँ। मैं उनके चरणों में श्रद्धासुमन अर्पित करता हूँ.

विवेक तन्खा ने भी अजीत जोगी के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि वे साहसी व्यक्ति थे. 16 सालों तक खामियों के बखूबी लड़े. शानदार आईएएस अधिकारी थे. थोड़े ही समय में राजनीतिक जगह बनाई. मुख्यमंत्री के तौर पर उन्होंने बहुत उपलब्धि हासिल की.
उन्होंने कहा कि परिवारिक मित्र के अलावा उनका सालों तक मैं अधिवक्ता रहा. दिल की गहराइयों से जोगी परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त करते हैं. भगवान उनकी आत्मा को शांति दे और परिवार को इस आघात से उबरने के लिए संबल प्रदान करे.

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रघुबर दास ने अजीत जोगी के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए दिवंगत आत्मा की शांति और परिजनों को दुख सहने करने की शक्ति प्रदान की करने की कामना की.

एनएसयूआई ने भी अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से अजीत जोगी के निधन पर शोक व्यक्त किया है. छत्तीसगढ़ के निर्माण में उनके कार्यों को लंबे समय तक याद किए जाने की बात कही है.

कांग्रेस नेता अलका लांबा ने कहा कि मेरी अंतिम मुलाकात छत्तीसगढ़ के चुनावों में हुई थी, जैसे ही पता चला कि हम एक ही गेस्ट हॉउस में ठहरे हैं, मैं उनके पास जाती उससे पहले वह अपनी व्हिलचेयर से मेरे कमरे में अपने साथियों के साथ पहुंचे और बोले अरे यह तो हमारी नेता (NSUI) रही हैं, यह उनका बड़प्पन था.

भाजपा नेता जय पांडा ने भी अजीत जोगी के निधन पर दुख व्यक्त किया है. जुएल ओराम ने भी जोगी के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए उनके परिवार और मित्रों के प्रति संवेदना व्यक्त की.

 

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।