कांग्रेस व्यापार प्रकोष्ठ के अध्यक्ष राजेंद्र जग्गी ने उद्योग मंत्री कवासी लखमा से की मुलाकात, उद्योग नीति पर दिए कई सुझाव…

रायपुर- कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में आज प्रदेश कांग्रेस कमेटी व्यापार प्रकोष्ठ के अध्यक्ष राजेंद्र जग्गी एवं उपाध्यक्ष जितेंद्र चंद्राकर के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने उद्योग मंत्री कवासी लखमा से मुलाकात की. इस दौरान प्रतिनिधिमंडल ने मंत्री को उद्योग नीति के संबंध में अपने सुझाव दिए.

साथ ही बिरकोनी इंडस्ट्रियल एसोसिएशन जिला महासमुंद के प्रतिनिधिमंडल ने भी जग्गी के नेतृत्व में मंत्री से मुलाकात की एवं उन्हें इंडस्ट्रियल एरिया में आ रही समस्याओं के संबंध में अवगत कराया, जिस पर मंत्री लखमा ने तत्काल उन अधिकारियों से फोन पर चर्चा की और उन्हें तुरंत समस्या के समाधान के लिए निर्देशित किया.

इस अवसर पर रौनक अग्रवाल ,जब्बर सिंह,  प्रमोद चंद्राकर, गौरव चंद्राकर, रजत पारख, कैलाश राठी आदि उपस्थित थे.

इन तीन बिंदुओं पर दिए सुझाव-

  1. प्रदेश में उद्योग विस्तार हेतु कहां कहां उद्योग लगाए जा सकते है एवं कौन कौन से उद्योग लगा सकते है एवं कहां उद्योगो के लिए जगह आरक्षित है इसकी जानकारी उद्योग विभाग को संपूर्ण प्रदेश के व्यापारियों को देना चाहिए, जिससे उद्योगों के सम्भावनाओं की जानकारी व्यापारियों एवं उद्योगपतियों को मिल सके.
  2.  प्रदेश का विकास कृषि आधारित उद्योग एवं लघु उद्योग की स्थापना पर ही आश्रित है. लघु उद्योगों के लिए एक अलग औद्योगिक क्षेत्र होना चाहिए, जिसमें लगभग 10 हजार वर्गफुट प्लाट रहे, उसमें फूड प्रोसेसिंग कोल्ड स्टोरेज आदि प्रारंभ हो सके. नये छोटे उद्योगों को प्रथम तीन वर्ष भू-भाटक, बिजली, पानी आदि टैक्स की दरों में छूट या अनुदान जैसी प्रणाली लाई जाए.
  3.  विभिन्न जिलों में औद्योगीक पार्क की स्थापना होनी चाहिए, जिसमें शासन की जमीन के मूलभूत सुविधाए शासन विकसित कर एवं अंतर्राष्ट्रीय मानकों के साथ रोजगार मूलक उद्योगों को प्रोत्साहन दिया जाए. प्रदूषण मुक्त उद्योगों के लिए ब्याज में छूट एवं अनुदान देकर अत्यंत छोटे एवं कुटीर उद्योगों को प्रोत्साहित किया जाए.

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।