पीएम मोदी ‘नीच आदमी’ मैं अपने बयान पर कायम…

मणि शंकर अय्यर पीएम मोदी को लेकर किए कमेंट ‘नीच आदमी’ पर कायम, कहा- क्या मैं भविष्यवाणी नहीं कर रहा था?’ कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर की पीएम मोदी को लेकर की गई अमर्यादित टिप्पणी ‘नीच आदमी’ का ध्यान होगा जिसकी वजह से उनकी बेहद आलोचना हुई थी, एक बार फिर अय्यर ने अपने इस कमेंट को सही ठहराया है.  अय्यर के इस कमेंट का उस वक्त काफी विरोध हुआ था, अब फिर अपने उस कमेंट को अय्यर जस्टिफाई कर रहे हैं.

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव 2019 में मतदान की प्रक्रिया जारी है और नेताओं की बयानबाजी भी निर्बाध रुप से जारी है विरोधियों की आलोचना करना उनपर कमेंट करना ये सब तो आम है कई बार नेता अपनी भाषाई मर्यादा भी भूल जाते हैं और बेहद अमर्यादित बयान दे जाते हैं, साल 2017 में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर बेहद घटिया टिप्पणी करते हुए उन्हें ‘नीच आदमी’ कहा था.

अय्यर के इस कमेंट का उस वक्त काफी विरोध हुआ था, अब फिर अपने उस कमेंट को अय्यर जस्टिफाई कर रहे हैं,एक न्यूज वेबसाइट में प्रकाशित अपने लेख में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अपनी 2017 “नीच आदमी” टिप्पणी को यह कहते हुए सही ठहराया है कि वह अपनी टिप्पणी में भविष्यवाणी कर रहे थे.

अपने लेख में, मणिशंकर ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी और बालाकोट हवाई हमलों के बारे में साक्षात्कारों में चुनावी रैलियों में पीएम मोदी की हालिया टिप्पणियों का हवाला देकर अपनी टिप्पणी को सही ठहराया. अय्यर ने प्रधानमंत्री पर अपनी शैक्षिक पृष्ठभूमि के बारे में झूठ बोलने के आरोप के साथ शुरुआत की जिसमें उन्होंने पीएम को भगवान गणेश की प्लास्टिक सर्जरी के बारे में ‘अनपढ़ दावे’ करने की बात भी कही.

अय्यर ने एक साक्षात्कार के दौरान अपनी हालिया टिप्पणियों के लिए पीएम को फटकार लगाई कि 26 फरवरी को हवाई हमले के दौरान बादल छाने से भारतीय वायु सेना को रडार से बचने में मदद मिली थी. अय्यर ने आगे कहा-‘उन्होंने (मोदी) ने अपने 56 इंच के सीने को थपथपाया और देखा कि वास्तव में भारी बादल छा गए हैं. भारतीय वायु सेना के लिए अच्छा है क्योंकि पाकिस्तानी रडार मोटे काले बादलों में नहीं जा पाएंगे.’ गौरतलब है कि मणिशंकर अय्यर को कांग्रेस से 2017 में निलंबित कर दिया गया था बाद में साल 2018 में उनका निलंबन वापस ले लिया गया था.

Back to top button
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।