चुनावी रण 2019: चार दिन में तीन कांग्रेसी विधायक हो गये भाजपाई, इस राज्य में संकट में पड़ी कांग्रेस

दिल्ली. कांग्रेस कार्यकारी समिति की आज होने वाली बैठक से एक दिन पहले जामनगर (ग्रामीण) से कांग्रेस विधायक वल्लभ धारविया इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल हो गए। पिछले चार दिनों में वे तीसरे कांग्रेस विधायक हैं जिन्होंने भाजपा का हाथ थामा है।

वर्ष 2017 में हुए विधानसभा चुनाव के बाद कुल पांच कांग्रेस विधायक ऐसा कर चुके हैं, जबकि एक को हाल में अयोग्य घोषित कर दिया गया था। ऐसे में कांग्रेस के विधायकों की संख्या 77 से घटकर 71 रह गई है।

उधर, अवैध खनन मामले में जूनागढ़ की स्थानीय अदालत द्वारा दो साल कैद की सजा सुनाए जाने पर कांग्रेस विधायक भगवान बराड़ को गत 5 मार्च को अयोग्य घोषित किए जाने के मामले में पार्टी के नेताओं ने चुनाव आयुक्त से मुलाकात की।
कांग्रेस नेता अर्जुन मोढ़वाड़िया ने पत्रकारों को बताया कि एक स्थानीय अदालत ने बराड़ की सजा पर रोक लगा दी है। इसकी जानकारी चुनाव आयोग और विधानसभा अध्यक्ष को दे दी गई है।

कांग्रेस मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के गृह राज्य गुजरात से चुनावी बिगुल फूंकेगी। अहमदाबाद में होने जा रही कांग्रेस कार्यकारी समिति की बैठक में लोकसभा चुनावों के लिए पार्टी की रणनीति को अंतिम रूप दिया जाएगा। गुजरात में पार्टी की इस सर्वोच्च इकाई की बैठक 58 साल बाद हो रही है। इससे पहले वर्ष 1961 में भावनगर में बैठक हुई थी।

विज्ञापन

Close Button
Close Button
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।