देश में फिर बढ़े कोरोना केस: कोविड की गाइडलाइन 31 अगस्त तक बढ़ाई गई, राज्य 5 सूत्रीय रणनीति को रखें ध्यान

नई दिल्ली। भारत में कोरोना संक्रमित मरीजों में उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है. कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच गुरुवार को संक्रमण के मामले बढ़ें हैं. इसी बीच केंद्र सरकार ने स्पष्ट किया है कि अनलॉक की पाबंदियों में पूरी तरह ढील नहीं दी जाएगी. कोरोना की गाइडलाइन को 31 अगस्त तक के लिए बढ़ा दिया गया है. आज देश में कोरोना वायरस के 43 हजार से अधिक केस सामने आए हैं.

केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को कोरोना से बचाव के लिए 5 सूत्रीय रणनीति को ध्यान रखने को कहा है. कोरोना से बचाव के लिए टेस्ट, ट्रैक, ट्रीट, टीका और कोरोना संबंधी उचित आचरण को अपना बेहद जरूरी है. राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को लिखे पत्र में उन्होंने यह भी कहा है कि आने वाले त्योहारों को देखते हुए भीड़भाड़ वाले सभी स्थानों पर कोरोना से बचाव के नियमों का अनुपालन सुनिश्चित करना आवश्यक है.

देश में गुरुवार को पिछले 24 घंटे में 43 हजार 509 कोरोना के नए केस मिले हैं. जबकि 38 हजार 465 मरीजों ने कोरोना को मात दी है. वहीं 640 मरीजों की मौत भी हुई. चिंता की बात ये है कि नए मामलों की तुलना में ठीक होने वाले मरीजों की संख्या फिर से घटने लगी है. इसके साथ ही देश में एक्टिव केसों की संख्या बढ़कर 4,03,840 पहुंच गई है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार सुबह यह जानकारी दी.

सबसे ज्यादा चिंता केरल बढ़ा रहा है. केरल में बुधवार को 22 हजार 56 लोग संक्रमित पाए गए, जो कि देश भर के नए संक्रमितों से आधे से अधिक है. कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते केंद्र सरकार ने केरल एक टीम भेजने का फैसला किया है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने बताया कि सरकार राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र के निदेशक की अध्यक्षता में 6 सदस्यीय टीम केरल भेज रही है. यह टीम कोरोना रोकथाम में राज्य सरकार के प्रयासों में मदद करेगी. वहीं केरल सरकार ने राज्य में 31 जुलाई और 1 अगस्त को कंप्लीट लॉकडाउन लगाने की घोषणा की है.

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।