कोरोना आपदा : राज्यपाल अनुसुइया उइके, सांसद रामविचार नेताम, सुनील सोनी और संतोष पांडेय ने दिया एक महीने का वेतन, अपील कर कहा- देश के एकजुट होने का वक्त है, मदद के लिए आप भी बढ़ाए हाथ

सांसद सुनील सोनी ने एक महीने के वेतन के साथ-साथ सांसद निधि से एक करोड़ रूपए देने की घोषणा की, रामविचार नेताम ने एक महीने के वेतन के साथ-साथ सांसद निधि से 46 लाख रूपने देने की अनुशंसा की

रायपुर- कोरोना वायरस की आपदा के बीच राज्यपाल अनुसुइया उइके, राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम, रायपुर सांसद सुनील सोनी  और राजनांदगांव सांसद संतोष पांडेय आगे आए हैं. उन्होंने अपने एक महीने का वेतन राहत कोष में दिए जाने का ऐलान किया है.

राज्यपाल अनुसुइया उइके ने मुख्यमंत्री राहत कोष में एक महीने का वेतन दिए जाने की घोषणा करते हुए कहा है जनता से अपील की है कि जरूरतमंदों की सहायता के लिए बढ़चढ़ कर अपनी सहभागिता दें.

इधर रायपुर सांसद सुनील सोनी ने भी एक महीने का वेतन प्रधानमंत्री आपदा राहत कोष में दिए जाने के साथ-साथ अपनी सांसद निधि से एक करोड़ रूपए दिए जाने की घोषणा की है. उन्होंने संसद में बीजेपी संसदीय दल के सचेतक अर्जुन मेघवाल को फोन कर इस बारे में सूचित किया है. सोनी ने कहा कि हम सब इस कठिन घड़ी में एकजुट हैं.

राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम ने एक महीने का वेतन प्रधानमंत्री राहत कोष तथा बलरामपुर-रामानुजगंज के लिए 26 लाख, सरगुजा और सूरजपुर जिले के लिए दस-दस लाख कुल 46 लाख रूपए सांसद निधि से दिए जाने की अनुशंसा कलेक्टर को भेज दी है. नेताम ने इस दौरान आपातकालीन एवं अत्यावश्यक सेवाओं के लिए कार्य करने वाले कर्मचारियों का मनोबल बढ़ाने की अपील भी आम जनता से की है. उन्होंने कहा है कि इस कठिन वक्त ने देश को एकजुट कर दिया है.

राजनांदगांव से बीजेपी के सांसद संतोष पांडेय ने भी कोरोना वायरस की आपदा के चलते अपने एक महीने का वेतन दिए जाने की घोषणा की है.

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।